स्वच्छता सर्वेक्षण-2021:अंतिम चरण का सिटीजन फीडबैक शुरू, अच्छी रैंकिंग के लिए अब लोगों को फीडबैक देने का मौका

पानीपत7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केंद्र सरकार की टीम शहर में घूमकर लाेगाें से ले रही फीडबैक, औद्याेगिक क्षेत्राें और काॅलाेनियाें का दौरा
  • शहर में डाेर-टू-डाेर कूड़ा कलेक्शन, चाैक-चाैराहाें पर सफाई व्यवस्था पर पूछे जा रहे सवाल, सफाई पर लाेगाें की प्रतिक्रिया जीपीएस फाेटाे के साथ की जा रही एकत्र

स्वच्छता सर्वेक्षण-2021 के लिए अंतिम चरण में सिटीजन फीडबैक शुरू हाे गया है। केंद्र सरकार की टीम शहर में जगह-जगह घूमकर लाेगाें से फीडबैक ले रही है। इसमें विशेष रूप से डाेर-टू-डाेर कूड़ा कलेक्शन व चाैक-चाेराहाें पर सफाई व्यवस्था पर रिपाेर्ट तैयार की जा रही है।

टीम के बारे में निगम अधिकारियाें काे कुछ नहीं बताया जाता। निगम ने जाे रिपाेर्ट केंद्र सरकार काे पेश की थी, उसी के अाधार पर सवाल किए जा रहे हैं। टीम ने मुख्य रूप से औद्याेगिक क्षेत्राें व काॅलाेनियाें में लाेगाें से फीडबैक लिया।

स्वच्छता सर्वेक्षण-2021 के लिए इस बार कुल 6000 अंक तय किए गए हैं। सर्वेक्षण भी 4 की बजाय 3 कैटेगरी में बांटा गया है। आम लोगों के फीडबैक अर्थात सिटीजन वॉयस के अंकों को बढ़ाकर 1800 अंक, दस्तावेजीकरण के 1800 अंक और सर्विस लेवल प्रोसेस के लिए सबसे ज्यादा यानी 2400 अंक दिए गए हैं।

इन सवालों का देना है जवाब

  • क्या आप जानते हैं कि आपका शहर स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 में भाग ले रहा है।
  • क्या आप स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 में अपने शहर की रैंकिंग जानते हैं।
  • आप अपने पड़ोस के स्वच्छता स्तर पर 0-10 के पैमाने पर कितने अंक देना चाहेंगे।
  • 0-10 के पैमाने पर आप अपने शहर को व्यवसायिक व सार्वजनिक क्षेत्रों के स्वच्छता स्तर पर कितने अंक देना चाहेंगे।
  • क्या आपसे हमेशा अपने कचरा संग्रह को सूखा और गीला कचरा अलग देने के लिए कहा जाता है।
  • आप अपने शहर के सार्वजनिक या सामुदायिक शौचालय या मूत्रालय के स्वच्छता पर 0-10 के पैमाने पर अपने शहर को कितना अंक देना चाहेंगे
  • क्या आप जानते हैं कि गूगल पर निकटतम सार्वजनिक शौचालय खोज सकते हैं।
  • क्या आप जानते हैं कि आप स्वच्छता के बारे में अपनी शिकायतों का उठाने के लिए स्‍वच्छता एप या स्थानीय एप का उपयोग कर सकते हैं।

टीम लीडर ने किया आह्वान, शहरवासी करें सहयाेग

स्वच्छ भारत मिशन के पानीपत टीम लीडर विजय सैनी ने शहरवासियाें का आह्वान किया है कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में फीडबैक दें। इससे ही हमारे शहर काे अच्छा रैंक प्राप्त हाेगा। टीम डाेर-टू-डाेर कूड़ा कलेक्शन, चाैक चाैराहाें पर सफाई व्यवस्था, कूड़ा ढाेने वाले संशाधन, निंबरी में डंपिंग की व्यवस्था समेत अन्य विषयाें पर फीडबैक ले रही है। जिससे भी सवाल पूछे जा रहे हैं, उनकी जीपीएस फाेटाे के साथ प्रतिक्रिया ली जा रही है।

खबरें और भी हैं...