पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिवपुरी में रोजाना 2 शव आते थे, अब 20:लकड़ी की खपत बढ़ी, तो रेट भी 300 से 900 रुपए प्रति क्विंटल तक हुआ

पानीपतएक महीने पहलेलेखक: नरेश मेहरा
  • कॉपी लिंक
पानीपत. असंध रोड पर दो नहर वाली शिवपुरी में कोरोना मृतकों के संस्कार के लिए रखी गई लकड़ी। - Dainik Bhaskar
पानीपत. असंध रोड पर दो नहर वाली शिवपुरी में कोरोना मृतकों के संस्कार के लिए रखी गई लकड़ी।
  • असंध राेड शिवपुरी के अलावा शहर के 9 मुख्य श्मशानों में भी राेजाना हाेते हैं 25 से ज्यादा संस्कार; शीशम, अमरूद और जामुन की सूखी लकड़ी के भी 3 गुना बढ़े भाव
  • कोरोना महामारी में मृतकों का अंतिम संस्कार भी हुआ महंगा
  • पहले 300 रुपए क्विंटल लकड़ी मिलती थी, अब 900 में बिक रही

श्मशान घाट में काेराेना पॉजीटिव मरीजाें समेत अन्य कारणाें से मरने वाले मृतकाें का संस्कार करा पाना अब समितियाें के लिए चुनाैती बनने लगा है। 2 माह पहले असंध राेड नहर वाली शिवपुरी में रोजाना 2 शव जलते थे। अब ताे काेविड के ही 20 तक संस्कार हाे रहे हैं। एक संस्कार में अनुमानित 5 क्विंटल तक लकड़ी लगती है।

ऐसे में लकड़ी की डिमांड 20 संस्कार हाेने पर 90 क्विंटल तक ज्यादा हाे गई है। यही हाल शहर की अन्य 9 प्रमुख श्मशानों में हैं। ऐसे में श्मशानों में लकड़ी की डिमांड बढ़ी ताे लकड़ी कारोबारियों ने कीमत भी 300 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 900 रुपए प्रति क्विंटल तक कर दी।

शामली कैराना में बढ़ा लकड़ी संकट

पानीपत के सभी श्मशान घाटाें में यूपी के शामली व कैराना से ही लकड़ी आती है। शीशम, अमरूद व जामुन समेत अन्य पेड़ाें की सूखी लकड़ी आती है। असंध राेड शिवपुरी के मुख्य सेवादार संजय ने बताया कि 2 माह पहले प्रति क्विंटल लकड़ी का रेट 300 रुपए था। अब 900 रुपए प्रति क्विंटल तक हाे गया है। इसे अलावा अलग-अलग आरा वालाें के पास चक्कर काटने पड़ते हैं। राेजाना 2 ट्राॅली लकड़ी लानी पड़ती है। आरा मालिकाें ने 3 गुना तक भाव बढ़ा दिए हैं।

प्रति क्विंटल अलग-अलग पेड़ाें की लकड़ियाें के रेट

इस समय जामुन 750 रुपए, नीम 950 रुपए, शीशम 1000 रुपए, अमरूद 800 रुपए, आम 1050 रुपए, कीकर 1100 रुपए प्रति क्विंटल तक है। इस तरह सभी काे मिलाकर 900 रुपए प्रति क्विंटल तक है।

शहर में हैं 10 प्रमुख श्मशान घाट

असंध राेड पर 2 नहराें वाली शिवपुरी, असंध राेड रेलवे पुल वाली शिवपुरी, कचैहरी वाली शिवपुरी, कुटानी राेड श्मशानघाट, बनियाें वाला श्मशानघाट, नूरवाला श्मशानघाट सेक्टर-13/17, किशनपुरा में शिव नगर वाली शिवपुरी, सेक्टर-11/12 शिवपुरी, जाटल राेड पर श्री दिगंबर जैन शिवपुरी, वाल्मीकि समाज श्मशानघाट है। सभी में औसतन 3 संस्कार राेजाना हाेते हैं। इस अब राेजाना के 20 संस्कार काेराेना के बढ़ चुके हैं। ऐसे में काेराेना पॉजिटिव मरीजाें के संस्कार समितियाें के लिए चुनाैती बनते जा रहे हैं।

संस्कार भी बढ़े और लकड़ी के रेट भी : संजय

मृतकाें के परिजनाें की 3-4 माह पहले की तरह आज भी प्रति संस्कार 2500 रुपए की ही पर्ची काटी जाती है। लकड़ी के भाव बेशक बढ़ गए, लेकिन हमने किसी भी पीड़ित परिवार पर भार नहीं बढ़ाया। - संजय, मुख्य सेवादार, शिवपुरी असंध राेड।

सीएनजी संस्कार मशीन नहीं लगवा सका निगम

असंध राेड 2 नहराें वाली शिवपुरी में नगर निगम ने 22 अप्रैल 2020 में सीएनजी दाह संस्कार लगाने का काम शुरू किया था। मशीन लगने में 67 लाख रुपए के खर्च का एस्टिमेट बनाया गया था। आज तक इसे लगाने का काम भी पूरा नहीं हुआ है। न ही इसका कनेक्शन हुआ है।

इस मशीन में पहला संस्कार एक घंटा, दूसरा व इससे आगे पाैना घंटा में हाेने की क्षमता है। संस्कार के आधे घंटे बाद ही मृतक की अस्थियां भी निकाली जा सकती है। इस तरह से एक दिन में मशीन से 6 संस्कार हाे सकते हैं। इस मशीन का काम कब पूरा हाेगा, कब तक चलेगी कुछ पता नहीं है।

खबरें और भी हैं...