दूसरी बार पानीपत में कोरोना का कोई मरीज नहीं:आखिरी पॉजिटिव केस भी रिकवर; पहली बार 17 अगस्त को हुआ था ऐसा, वैक्सीनेशन में भी काफी रुचि दिखा रहे लोग

पानीपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मार्च 2020 से अब तक यह दूसरी बार हुआ है कि हरियाणा के पानीपत जिले में कोरोना का कोई भी एक्टिव केस नहीं है। पानीपत पूरी तरह से कोरोना मरीजों से फ्री हो गया है। इसकी वजह पानीपत में रिकॉर्ड वैक्सीनेशन को माना जा रहा है। पानीपत में अब तक 85 प्रतिशत से अधिक लोगों को कोरोना की पहली और दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। इससे पहले 17 अगस्त 2020 को पानीपत कोरोना मरीजों से फ्री हुआ था।

902 के सैंपल लिए गए, सभी निगेटिव

दुनिया और देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। केरल समेत देश के कई राज्यों में कोरोना के केसों में वृद्धि हुई है। वहीं रिकॉर्ड वैक्सीनेशन के दम पर पानीपत में कोरोना मरीजों की संख्या जीरो हुई है। शुक्रवार को पानीपत में एक्टिव आखिरी कोरोना पॉजिटिव ने भी महामारी को मात दे दी है।

इससे पहले 17 अगस्त 2020 को पानीपत कोरोना मुक्त हुआ था। पानीपत में अब तक 30 हजार 642 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। जबकि अब तक कोरोना से जिले के 642 लोगों की मौत हुई है। गुरुवार को भी कोरोना के 902 सैंपल लिए गए। सभी की रिपोर्ट निगेटिव मिली है।

59 सेंटर पर 30 हजार ने लगवाया राहत का टीका

पानीपत में गुरुवार को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए कुल 59 सेंटर बनाए गए थे। जिन पर कुल 30 हजार 368 लोगों को कोरोना की पहली और दूसरी डोज लगाई गई। इनमें 18+ के 20 हजार 474 को पहली और 4 हजार 605 को दूसरी डोज लगाई गई। वहीं 45+ के 3 हजार 825 को पहली और 1 हजार 464 को दूसरी डोज लगाई।

खबरें और भी हैं...