पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Councilors Raised The Demand For The Removal Of The Contractor, Wrote A Letter To The Commissioner And Said Remove The Unnecessary Load Of The Municipal Corporation

नालाें की सफाई नहीं हाेने से असंतोष:पार्षदाें ने उठाई ठेकेदार काे हटाने की मांग, कमिश्नर काे पत्र लिख कर बाेेले- नगर निगम का फिजूल भार हटाएं

पानीपत14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सफाई की मांग मजबूती से उठने के साथ काम करते नाला गैंग कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
सफाई की मांग मजबूती से उठने के साथ काम करते नाला गैंग कर्मचारी।
  • प्री मानसून व संपूर्ण मानसून में जलभराव के संकट का लोगों को सता रहा है डर
  • सनाैली राेड दुकानदार बाेले- जलभराव हुआ ताे निगम पर ठाेकेंगे केस

शहर में गंदगी के कारण जाम पड़े नालाें की सफाई नहीं हाेने से असंतुष्ट पार्षदाें ने ठेकेदार काे हटाने की मांग उठाई है। पार्षदाें का कहना है कि नालाें की सफाई का ठेका बहुत पहले ही खत्म हाे चुका है।

बरसाती सीजन में शहर में जलभराव की समस्या न आए, इसलिए ठेका बढ़ाया गया था। लेकिन अब ठेकेदार काे हटा दिया जाए, क्याेंकि जिस उम्मीद के साथ उसका ठेका बढ़ाया गया था, उस पर वह किसी भी सूरत में खरा नहीं उतर पाया है।

पार्षदाें का कहना है कि अब जब नालाें की सफाई की मांग प्रमुखता से उठी ताे ठेकेदार काे अपना असली काम याद अाया। वर्ना यही ठेकेदार नाला गैंग से शहर में लगी कूड़े की ढेरियां उठवाता रहा था। ट्रैक्टर ट्रालियाें पर ड्यूटी लगा रहा था। इसी ठेकेदार पर अन्य काम है।

इसलिए यह नालाें की सफाई करने की बजाय, बाकि अन्य सभी काम नाला गैंग से करवाता है। प्री मानसून व संपूर्ण मानसून सिर पर है। फिर भी नाले जाम पड़े हैं। नालों के जलभराव से शहरवासियों को काफी परेशानियों को सामना करना पड़ता है।

पार्षद बोले- अब जब नालाें की सफाई की मांग प्रमुखता से उठी ताे ठेकेदार काे अपना असली काम याद आया

पार्षदों ने कहा- नाला गैंग व इसके ठेकेदार की कमी के कारण ही शहर में जलभराव का संकट आएगा

पार्षदाें ने कमिश्नर काे भेजी लिखित शिकायत में स्पष्ट किया है कि नालाें की सफाई नहीं हाेने में कर्मचारियाें का काेई दाेष नहीं है। कर्मचारियाें काे ताे जाे काम बाेला जाएगा, वह वहीं करेंगे। गलती ताे सारी ठेकेदार की है, जिसने नालाें की सफाई में ड्यूटी नहीं दी। पार्षद संजीव दहिया, पार्षद अंजली शर्मा, पार्षद सुमन छाबड़ा व पार्षद अश्वनी ढींगड़ा का कहना है कि उन्हाेंने इस संबंध में कमिश्नर काे लिखित शिकायत दे दी है।

नाला गैंग व इसके ठेकेदार की कमी के कारण ही शहर में जलभराव का संकट आएगा। इसमें महामारी फैलने का भय रहेगा। पार्षद संजीव दहिया का कहना है कि उसके वार्ड में एक साल में नाला गैंग के कुछ कर्मचारी दो दिन से आने लगे हैं। वहीं पार्षद अंजली शर्मा का कहना है कि मेरे वार्ड में सबसे ज्यादा जलभराव रहता है।

सनौली रोड पर जलभराव की बहुत ज्यादा समस्या

सनाैली राेड पर जलभराव की बहुत समस्या रहती है। इस राेड का नाला आज भी जाम पड़ा है। दुकानदार विनाेद, सरदार कुलवंत, माेनू, व रमन का कहना है कि एक साल से ज्यादा समय से नाला सफाई की मांग कर रहे हैं। अब तक काेई कर्मचारी सफाई के लिए नहीं आया है।

इस बार जलभराव हुआ ताे नगर निगम पर केस ठाेकेंगे। वहीं पार्षद संजीव कुमार का कहना है कि उनके वार्ड में सबसे ज्यादा नाले हैं। मुख्य रूप से साई काॅलाेनी, साैंदापुर काॅलाेनी, रामनगर व साैंदापुर चाैक में नाले जाम पड़े हैं।

शुरू करवा दी है नालाें की सफाई, बाकि पार्षदाें की मांग भी गंभीरता से लेंगे : कमिश्नर

शहर में नालाें की सफाई का काम तेज गति से चलवा दिया है। अब राेज के काम की प्राेग्रेस रिपाेर्ट भी कर्मचारी व सफाई विंग के अधिकारी भिजवा रहे हैं। पार्षदाें की जाे भी मांग हैं, उन पर भी गंभीरता से विचार किया जाएगा।
- आरके सिंह, ठेकेदार, नगर निगम, पानीपत।

खबरें और भी हैं...