पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अव्यवस्था:छुट्‌टी के बाद सरकारी अस्पताल में बढ़ी मरीजों की भीड़, पिछले 15 दिनों से ओपीडी 1350 से ज्यादा रही

पानीपत12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पानीपत. सिविल अस्पताल में अाेपीडी स्लीप बनवाते मरीज। - Dainik Bhaskar
पानीपत. सिविल अस्पताल में अाेपीडी स्लीप बनवाते मरीज।
  • रैबीज इंजेक्शन फिर से खत्म, रोजाना 20 से ज्यादा केस आ रहे हैं
  • प्राइवेट अस्पतालों में चार गुना ज्यादा पैसे देकर टीका लगवा रहे मरीज

बंसत पंचमी की छुट्टी के बाद खुले सिविल अस्पताल में बुधवार काे मरीजाें की भीड़ बढ़ी। मरीजाें 1 बजे तक भी लंबी लाइनाें में लगकर अाेपीडी स्लीप कटवाते रहे। बुधवार काे मरीजाें की ओपीडी 1427 से ज्यादा रही।

पिछले 15 दिनाें की बात करें ताे सिविल अस्पताल की ओपीडी 1350 से ज्यादा चल रही है। ऐसा इसलिए क्याेंकि माैसम में बदलाव के कारण वायरल बुखार के मरीज बढ़ गए हैं। सबसे ज्यादा मरीज खांसी, जुकाम, बुखार, छाती राेग, शुगर, बीपी व टीबी के मिल रहे हैं। 15 नंबर कमरे में चल रही सामान्य ओपीडी में बुधवार काे 400 से ज्यादा मरीज पहुंचे।

वहीं, अस्पताल में 80 से ज्यादा लाेगाें ने एक्स-रे भी कराया। बुधवार काे दिव्यांगाें की पैंशन के लिए बाेर्ड भी बैठा। इसमें 120 से ज्यादा दिव्यांगाें ने अपना फार्म जमाया कराया। पिछले बुधवार काे आए फार्माें में करीब 40 दिव्यांगाें की मेडिकल बनाया गया।

विभाग ने 50 हजार रुपए के 170 टीके खरीदे थे

सिविल अस्पताल में एक सप्ताह बाद फिर से एंटी-रैबीज इंजेक्शन खत्म हाे गए हैं। इससे पहले जनवरी के आखिरी 15 दिनाें में भी सिविल अस्पताल में एंटी रैबीज इंजेक्शन खत्म हाे गए थे। तब लाेकल बजट से स्वास्थ्य विभाग ने 50 हजार रुपए के करीब 170 टीके खरीदे थे।

इंजेक्शन खत्म हाेने से कुत्ते द्वारा काटे गए मरीजाें काे परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। सिविल अस्पताल में ये टीका बीपीएल काे फ्री में और सामान्य वर्ग काे 100 रुपए में लगता है, लेकिन इंजेक्शन नहीं हाेने के कारण मरीजाें काे मजबूरन प्राइवेट अस्पतालाें में 4 गुना तक पैसे देकर टीका लगवाना पड़ रहा है। सिविल अस्पताल में पिछले 20 दिनाें से औसतन 25 से ज्यादा नए और पुराने केस आ रहे हैं। बुधवार काे भी 26 लाेग पहुंचे। इन सभी के लिए इमरजेंसी में टीका लाने पड़े और टीके लगाए गए।

लोकल बजट से फिर 50 हजार के टीके खरीदेंगे

एमएस डाॅ. अालाेक जैन ने बताया कि स्टेट हेयर हाउस में एक भी इंजेक्शन नहीं है, इसलिए ऊपर से सप्लाई नहीं आ रही है। विभाग द्वारा डिमांड व रिमाइंडर भेज चुका है। फरवरी की शुरुआत में लाेकल बजट से 50 हजार के टीके खरीदे थे। अब दाेबारा फिर लाेकल बजट से 50 हजार टीके खरीदे जाएंगे। ताकि मरीजाें काे परेशानी का सामना न करना पड़े।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें