पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Destitute Animal Tagging Will Be Sent To Nain Goa Sanctuary, The Corporation Will Give 37 Lakhs For Fodder Every Month

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नगर निगम हाउस का फैसला:बेसहारा पशु टैगिंग कर नैन गोअभयारण्य भेजे जाएंगे, निगम हर माह चारे के लिए देगा 37 लाख

पानीपत9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निगम हाउस की मीटिंग में मौजूद मेयर अवनीत व अन्य। - Dainik Bhaskar
निगम हाउस की मीटिंग में मौजूद मेयर अवनीत व अन्य।
  • बेसहारा पशु, आवारा कुत्ते और बंदरों से राहत दिलाने के लिए प्रस्ताव पास
  • जनप्रतिनिधियों का दावा- एक माह में नजर आएगा सुधार

शहर से जुड़े 6 जरूरी प्रस्ताव पास कराने के लिए गुरुवार को मेयर अवनीत कौर की अध्यक्षता में लघु सचिवालय में नगर निगम हाउस की अति आवश्यक मीटिंग बुलाई गई। बेसहारा पशुओं, आवारा कुत्तों और बंदरों से शहरवासियों को हाे रही परेशानी दूर करने के लिए प्रस्ताव पास किए गए।

दावा किया गया कि एक माह में असर दिखाई देगा। बेसहारा पशु नैन गोअभयारण्य भेजे जाएंगे। चारे के लिए हर महीने नगर निगम अभयारण्य को 37 लाख रुपए देगा। वहीं, पोल पर स्ट्रीट लाइट टांगने के लिए निगम के पास क्लैंप नहीं, इसलिए 2 माह से निगम के गोदाम में 2 करोड़ की 9940 स्ट्रीट लाइटें पड़ी हुई है। 1 करोड़ से ज्यादा के वर्क निगम हाउस ही पास कर सकता, इसलिए मीटिंग बुलाकर 1.65 करोड़ के टेंडर को पार्षदों ने प्रशासनिक मंजूरी दी। अब 14 दिनों का शॉर्ट टेंडर लगाकर वर्क ऑर्डर जारी होगा। उम्मीद है कि 15 दिनों के बाद शहर में नई स्ट्रीट लाइटें लगनी शुरू हो जाएगी। चीफ इंजीनियर महीपाल सिंह एक-एक कर एजेंडा बताते रहे, जिस पर बहस के बाद हाउस मुहर लगाता गया।

4 पाॅइंट सबके काम के: बेसहारा पशु, कुत्ते और बंदर हटेंगे, 15 दिनों में लगने लगेगी स्ट्रीट लाइट

1) पशुओं को बाहर छोड़ा तो कार्रवाई होगी
चारे की कमी के कारण नैन गोअभयारण्य वाले शहर के पशुओं को रखने से परहेज करते हैं। प्रस्ताव पास किया कि हर माह चारे के लिए निगम 37 लाख खर्च करेगा, लेकिन पशुओं को टैग करके भेजा जाएगा। आगे से बाहर छोड़ने पर कार्रवाई भी होगी। पार्षद संजीव दहिया ने सवाल उठाया था कि अभयारण्य वाले पशु छोड़ देते हैं।

2) बंदर पकड़ने को टेंडर प्रक्रिया 11 को पूरी करेंगे
प्रस्ताव में कुत्ते और बंदर का कोई जिक्र नहीं था। वार्ड-9 की पार्षद मीनाक्षी नारंग के पति पूर्व पार्षद अशोक नारंग ने इस पर प्लानिंग जाननी चाही। पार्षद रविंद्र भाटिया और अशोक कटारिया ने पूछा कि बंदर पकड़ने पर क्या प्रोग्रेस है, मुख्य सफाई निरीक्षक सुधीर कुमार ने कहा कि दो टेंडर आए हैं। सोमवार को प्रक्रिया पूरी होगी।

3) कुत्तों की नसबंदी को हिसार से बुलाएंगे एजेंसी
वार्ड-3 से पार्षद अंजलि शर्मा, लोकेश नांगरू, शकुंतला गर्ग आदि ने कुत्तों की समस्या दूर करने के लिए जवाब मांगा। नांगरू ने कहा कि हिसार के एक ठेकेदार का उनके पास कल भी फोन आया था, निगम वाले काम नहीं कर रहे हैं। फिर, मेयर ने कहा कि हिसार से उस ठेकेदार को पानीपत बुलाया जाएगा।

4) हर वार्ड को 500 स्ट्रीट लाइटें मिलेंगी
किस वार्ड में कितनी लाइटें लगेंगी, इस पर पार्षदों के बीच ही बहस छिड़ गई। वार्ड-14 की शकुंतला गर्ग ने कहा जो ज्यादा बोलते हैं, उन्हें ज्यादा मिल जाएंगी। इसलिए बराबर बांटी जाएं। दुष्यंत भट्‌ट ने कहा कि किसी में कम तो किसी में ज्यादा की जरूरत है। कमिश्नर डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि हर वार्ड में 500-500 स्ट्रीट लाइटें दी जाएगी।

नगर निगम की बिल्डिंग बनाने के लिए पहले एग्रो मॉल लेने का प्रयास होगा
हाउस की मीटिंग में सबसे पहले प्रस्ताव यहीं रखा गया कि लघु सचिवालय के साथ 10 हजार वर्ग गज जमीन खाली पड़ी है, जहां पर नगर निगम की बिल्डिंग बनाने के लिए प्रस्ताव पास किया जाए। इसका पार्षद लोकेश नांगरू, दुष्यंत भट्‌ट, अशोक कटारिया, रविंद्र भाटिया, संजीव दहिया सहित सभी पार्षदों ने विरोध किया। पार्षदों ने कहा कि पहले एग्रो मॉल को ही लेने का प्रयास हो, क्योंकि सीएम खुद दो बार इसको लेकर कह चुके हैं। जो भी समस्याएं आएगी, उसे सीएम से मिलकर दूर कराएंगे। तय हुआ कि अगर एग्रो मॉल नहीं मिला तो अगली मीटिंग में लघु सचिवालय के पास निगम बिल्डिंग बनाने के लिए प्रस्ताव पास किया जाएगा।

इन पाॅइंट पर पार्षदों ने निगम अफसरों को घेरा

  • बैठक से मीडियाकर्मियों को बाहर करने के सवाल पर मीटिंग शुरू होने से पहले ही विवाद हो गया। पार्षद अशोक कटारिया ने कहा कि ऐसा हुआ तो वे लोग मीटिंग का बहिष्कार करेंगे। फिर दुष्यंत भट्‌ट और लोकेश नांगरू ने कहा कि क्या मीटिंग की अध्यक्षता कर रही मेयर का यह आदेश है। इस पर मेयर ने ना कहा तो निगर कमिश्नर चुप रह गए।
  • 2 माह से गोदाम में क्लेंप की कमी के कारण बंद स्ट्रीट लाइट के लिए पार्षद दुष्यंत भट्‌ट ने नगर निगम अफसरों को पूरी तरह से जिम्मेदार बताया। साथ ही मीटिंग का एजेंडा एक दिन पहले मिलने पर सवाल उठाए। जिस पर कमिश्नर डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि यह अर्जेंट मीटिंग है। अगली बार से समय से पहले एजेंडा भेज दिया जाएगा।
  • प्रापर्टी टैक्स की अनियमितता को लेकर पार्षद अशोक कटारिया ने अफसरों घेरा। बताया कि निगम वाले कैसी-कैसी गलतियां कर रहे हैं। कमिश्नर ने कहा कि जो भी बेहतर हो सकेगा, प्रॉपर्टी टैक्स कलेक्शन के लिए किया जाएगा।
  • एजेंडा में आवारा पशु लिखने पर पार्षद रविंद्र भाटिया ने कहा कि यह बेसहारा हैं, आवारा नहीं। यह शब्द हटाया जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser