पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • साढ़े 64 घंटे बाद 2.5 KM दूर मिले दोनों दोस्तों के शव, पानी कम होने पर रेत में दबे मिले

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानीपत नहर में डूब गए जर्मनी जाने के सपने:साढ़े 64 घंटे बाद 2.5 KM दूर मिले दोनों दोस्तों के शव, पानी कम होने पर रेत में दबे मिले

पानीपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नीरज का फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
नीरज का फाइल फोटो।
  • दिल्ली से लौटते वक्त 27 जनवरी की शाम 7 बजे समालखा में नहर में गिरी थी दोस्तों की कार

समालखा के गांव नारायणा और बुडशाम के बीच दिल्ली पैरलल नहर में लापता दोनों दोस्तों के शव शनिवार को घटना स्थल से करीब 2.5 किलोमीटर दूर मिले हैं। हादसे के साढ़े 64 घंटे बाद शव को ढूंढा जा सका। तीन दिन में नहर का पानी 15 से 4 फिट हुआ तो शव रेत में दबे मिले। दोनों छात्रों के परिजनों को रो-रोकर बुरा हाल रहा।

पोस्टमार्टम हाउस से नीरज की बॉडी ले जाते परिजन।
पोस्टमार्टम हाउस से नीरज की बॉडी ले जाते परिजन।

पानीपत के विकास नगर निवासी जतिन और उसका TDI निवासी दोस्त नीरज दिल्ली स्थित जर्मन एंबेसी में इंटरव्यू देने के बाद 27 जनवरी की शाम को कार से वापस लौट रहे थे। समालखा के नारायणा और बुडशाम गांव के बीच छात्रों की कार की पिछला टायर फट गया। जिसके बाद अनियंत्रित कार दिल्ली पैरलल नहर में जा गिरी। दोनों दोस्त कार का शीशा तोड़कर बाहर निकलने में तो कामयाब रहे और कार की छत पर चढ़ गए, लेकिन तैरना न आने के कारण कार डूबने के बाद वह भी पानी के तेज बहाव में बहकर डूब गए।

25 मीटर की दूरी पर मिले दोनों के शव
परिजनों ने बताया कि पहले नीरज का शव मिला उसके कुछ देर बाद करीब 11:30 बजे जतिन का शव मिला। दोनों शव करीब 25 मीटर की दूरी पर मिले। तीन दिन से गौताखोर बोट लेकर उनकी तलाश कर रहे थे। अब तीसरे दिन नहर का पानी 15 फिट से 4 फिट होने के बाद दोनों के शव रेत में दबे दिखे।

फीस तक जमा करा चुके थे परिजन
नीरत और जतिन दोनों के पिता आर्मी से रिटायर्ड हैं। परिजनों ने बताया कि दोनों ने दयाल सिंह पब्लिक स्कूल से एक साथ 12वीं पास की थी। अब दोनों जर्मनी में पढ़ाई करना चाहते थे। इसके लिए फीस तक जमा करा दी थी। अब इंटरव्यू के बाद दोनों को जर्मनी जाना था, लेकिन इस हादसे ने दोनों के सपने छीन लिये।

अपने मां-बाप का इकलौता था जतिन
विकास नगर निवासी जतिन अपने मां-बाप की इकलौती संतान थी। जबकि TDI निवासी नीरज का छोटा भाई खुशहाल है। शव मिलने के बाद दोनों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल रहा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

और पढ़ें