9 से ज्यादा टोल शुरू:दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे के 3 टोल प्लाजा पर फास्टैग ठप, पानीपत में जाम लगा तो 3 बार फ्री करना पड़ा

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शंभू बॉर्डर पर कई किलोमीटर तक लगा जाम, चालकों ने झेली परेशानी (अम्बाला में दोनों टोल प्लाजा शंभू व सैनी माजरा शुरू हो गए हैं। हालांकि दोनों में फास्ट टैग स्कैनर, फास्ट टैग रिचार्ज और कैश की वजह से दिक्कतें आईं। 2 किलोमीटर तक जाम लग गया। इससे वाहनों चालकों को काफी दिक्कतें हुईं। ) - Dainik Bhaskar
शंभू बॉर्डर पर कई किलोमीटर तक लगा जाम, चालकों ने झेली परेशानी (अम्बाला में दोनों टोल प्लाजा शंभू व सैनी माजरा शुरू हो गए हैं। हालांकि दोनों में फास्ट टैग स्कैनर, फास्ट टैग रिचार्ज और कैश की वजह से दिक्कतें आईं। 2 किलोमीटर तक जाम लग गया। इससे वाहनों चालकों को काफी दिक्कतें हुईं। )

प्रदेश में किसान आंदोलन खत्म होने के बाद जल्दबाजी में बिना व्यवस्था बनाए कंपनियों ने 9 से ज्यादा टोल प्लाजा पर वसूली शुरू कर दी है, लेकिन दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर पानीपत, बसताड़ा, शंभू बॉर्डर और सैनी माजरा स्थित टोल प्लाजा पर फास्टैग के सही काम न करने से वाहन चालकों को जाम का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार दोपहर से लेकर शाम तक पानीपत में लंबा जाम लगा तो पुलिस ने 3 बार टोल फ्री करवाकर वाहन निकलवाए, लेकिन पुलिस के जाते ही टोल वाले वसूली शुरू करते रहे, जिससे फिर से जाम लग जाता है।

किसी के फास्टैग में बैलेंस नहीं है तो किसी का ब्लैकलिस्टेड हो चुका है। कई बार तो टोल पर लगी मशीन भी फास्टैग की रीडिंग नहीं कर पा रही है। इसके चलते जाम लग रहा है। टोल कर्मचारियों ने डबल वसूली की बात को नकार दिया है। पानीपत में दोपहर 12 बजे जाम लगा, फिर दोपहर 2:30 बजे टोल फ्री कराया गया। फिर शाम 4:30 बजे फ्री कराया। शाम 5 बजे के करीब लंबा जाम लग गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने फिर से टोल फ्री करवा दिया। एसएचओ ने कहा कि पुलिस के जाते ही टोल वाले वसूली शुरू कर देते हैं। इसलिए जाम लग जाता है। चारों टोल प्लाजा पर जाम के हालात रहे।

ट्रैक्टर-ट्रॉली का कोई टोल नहीं
ट्रैक्टर-ट्रॉली के लिए कोई टोल नहीं लिया जा रहा है। टोल कर्मी ने कहा कि किसी भी लेन में ट्रैक्टर ट्रॉली जाए, कृषि में उपयोग होने के कारण इस पर कोई टैक्स नहीं लिया जा रहा है।

सभी टोल 19 तक हो सकते हैं शुरू
रोहतक हाईवे पर डाहर टोल प्लाजा शुरू नहीं हुआ है। इसी तरह कई टोल हैं, जहां किसानों का धरना उठ गया, लेकिन व्यवस्था न होने के कारण टोल वसूली बंद है। हिसार-चंडीगढ़ राेड पर बाडाे पट्टी टाेल व हिसार-राजगढ़ राेड पर चाैधरीवास टाेल मंगलवार रात 12 बजे शुरू होने हैं।

धरने खत्म हुए हैं, आंदोलन नहीं, एमएसपी की लड़ाई जारी: टिकैत

जींद. खटकड़ व बद्दोवाल टोल प्लाजा पर किसानों का धरना समाप्त करवाने पहुंचे संयुक्त किसान नेताओं ने एमएसपी की गारंटी को लेकर लड़ाई जारी रखने की बात कही। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार अगर यह सोचती है कि आंदोलन समाप्त हुए हैं तो वह गलत है। धरने इसलिए समाप्त हुए हैं, जिससे सरकार काम कर सके और हमें एमएसपी की गारंटी मिले। एसवाईएल मुद्दे पर टिकैत ने कहा कि हमने सुना था कि हरियाणा की खाप पंचायतें प्रदेश के हक के पानी को लेकर पंजाब की जत्थे-बंदियों से बात कर रही है। यह गलती नहीं करना। पंजाब के लोग सोचेंगे कि हरियाणा ने पानी के लालच में हमारा सहयोग किया है। यह सरकार का काम है। भाकियू अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि किसानों पर दर्ज मामले वापस न हुए, एमएसपी की गारंटी व मृत किसानों को मुआवजा नहीं मिला तो फिर आंदोलन होगा।

खबरें और भी हैं...