• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Goddess Temple Decorated With Colorful Lights On The First Navratri: Goddess Durga Will Come Sitting In A Doli, Invoke The Goddess, Worship And Immersion, Do All These Auspicious Things In The Morning.

8 दिनों के रहेंगे नवरात्र:पहले नवरात्र पर रंग-बिरंगी लाइटों से सजा देवी मंदिर: डोली में बैठकर आएंगी देवी दुर्गा, देवी का आह्वान, पूजन और विसर्जन ये तीनों शुभ काम सुबह ही करें

पानीपत11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
श्री देवी मंदिर में सजी मां की मूर्ति।फाेटाे | नवीन मिश्रा - Dainik Bhaskar
श्री देवी मंदिर में सजी मां की मूर्ति।फाेटाे | नवीन मिश्रा
  • 15 अक्टूबर को दुर्गा नवमी के साथ होगा समापन, सुबह 5 बजे शुरू हो जाएगी मां की पूजा

अश्विन मास के नवरात्र आज से शुरू हो रहे हैं। इस बार ये 8 दिनों के रहेंगे और 15 अक्टूबर को दुर्गा नवमी के साथ समापन होगा। देवी का आह्वान, पूजन और विसर्जन, ये तीनों शुभ काम सुबह ही करने चाहिएं। पानीपत के सबसे प्राचीन देवी मंदिर को बुधवार शाम काे ही रंग-बिरंगी लाइटाें से सजा दिया गया। मंदिर में सुबह 5 बजे से ही देवी मां की पूजा की जाएगी।

देवी मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य लालमणि पांडेय के अनुसार नवरात्र की शुरुआत जिस वार से होती है, उस वार के अनुसार देवी मां अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर धरती लोक आती हैं। अगर नवरात्र की शुरुआत सोमवार या रविवार से होती है तो मां दुर्गा हाथी पर सवार होकर आती हैं। अगर मंगलवार या शनिवार से नवरात्र शुरू हो रहे हैं तो माता घोड़े पर सवार होकर आती हैं। अगर नवरात्र की शुरुआत बुधवार से हो रही है तो देवी मां नाव में आती हैं। अगर गुरुवार या शुक्रवार से शुरू होते हैं तो माता डोली में सवार होकर आती हैं। इस बार नवरात्र गुरुवार से शुरु हो रहे हैं।

बिना मास्क के श्री देवी मंदिर में प्रवेश नहीं : शहर के सबसे प्रसिद्ध श्री देवी मंदिर में बिना मास्क के श्रद्धालु प्रवेश नहीं कर पाएंगे। अगर किसी के पास मास्क नहीं होगा तो गेट पर मंदिर संस्था वाले देंगे। मंदिर के गेट पर सैनिटाइजर की भी व्यवस्था की गई है।

10 घंटे तक होंगे दर्शन : श्री देवी मंदिर से संबंधित अग्रवाल वैश्य पंचायत के प्रधान काकू बंसल ने कहा कि सुबह 4 बजे से दोपहर 12 बजे तक, फिर शाम के 4 बजे से रात 10 बजे तक श्रद्धालुओं के लिए मंदिर खुला रहेगा। काकू बंसल ने कहा कि दिन में अगर श्रद्धालुओं की संख्या ज्यादा हुई तो फिर समय आगे भी बढ़ा दिया जाएगा।

न रामलीला, न झूले लगेंगे : ​​​​​​श्रीदेवी मंदिर परिसर में कोरोना के चलते इस बार भी कोई रामलीला नहीं होगी। प्रशासन ने रामलीला के साथ ही झूले लगाने की अनुमति भी नहीं दी। इसलिए, मेले का आयोजन भी नहीं होगा।

खबरें और भी हैं...