पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Jio Tagging Of Your House Will Be Done In The Municipal Software, The Corporation Employees Will Remove The Photo Even On One Click

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुविधा:नगर निगम के सॉफ्टवेयर में होगी आपके घर की जियो टैगिंग, एक क्लिक पर फोटो तक निकाल लेंगे निगम के कर्मचारी

पानीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सॉफ्टवेयर बनने के बाद ऑनलाइन बिल जमा करना भी होगा मुमकिन

करीब 35 लाख रुपए खर्च कर नगर निगम प्रॉपर्टी टैक्स संबंधी एक सॉफ्टवेयर बनवाने जा रहा है, जिसमें आपके घर की जियो टैगिंग होगी। एक ही क्लिक पर नगर निगम के कर्मचारी आपके मकान की फोटो तक निकाल लेंगे। प्रॉपर्टी टैक्स कलेक्शन के लिए निगम यह सॉफ्टवेयर बनवा रहा है। इस सॉफ्टवेयर से ऑटोमेटिक रूप से प्रॉपर्टी टैक्स का बिल बनेगा।

साथ ही प्रॉपर्टी टैक्स संबंधी सभी रिकॉर्ड भी इस सॉफ्टवेयर में फीड रहेगा। इसके माध्यम से मोबाइल पर आप सभी मकान मालिकों को प्रॉपर्टी टैक्स के बारे में जानकारी भी मिलेगी। सॉफ्टवेयर बनने के बाद ऑनलाइन बिल जमा करना भी मुमकिन होगा।

क्योंकि डीसी रेट के कर्मचारी मिलीभगत कर बड़े घपले कर रहे

एक ऐसा सॉफ्टवेयर बनाने की बड़ी जरूरत है, क्योंकि प्रॉपर्टी टैक्स के नाम पर निगम में लूट मची हुई है। डीसी रेट के कर्मचारी बड़े अफसरों के सपोर्ट से बड़े-बड़े घपले कर रहे हैं। पिछले दिनों तत्कालीन संयुक्त कमिश्नर ने 1 अप्रैल 2019 से 11 फरवरी 2020 के बीच जमा कराए गए बिलों में से जांच के लिए 535 प्रॉपर्टी के सैंपल उठाए थे। जांच में पता चला कि 535 प्रॉपर्टी पर 5.87 करोड़ का टैक्स बनता था, कर्मचारियों ने 2.48 करोड़ लेकर बकाया 3.50 करोड़ को शून्य बना दिया।

निगम के पास कोई रिकॉर्ड नहीं

निगम के पास प्रॉपर्टी टैक्स का कोई पुख्ता रिकॉर्ड ही नहीं है। यहां तक कि यह भी पता नहीं कि शहर में वास्तव में कितने मकान बने हुए हैं। निगम 1.50 लाख हाउस यूनिट मानता है।

ऑनलाइन रिकॉर्ड के साथ 4 साल का रजिस्टर बनेगा

सॉफ्टवेयर के अलावा नगर निगम मेनुअल रजिस्टर भी बनवाएगा। जिसमें आपकी प्रॉपर्टी आईडी के साथ ही नाम और मोबाइल नंबर दर्ज होगा। ताकि उसके आधार पर प्रॉपर्टी टैक्स का बिल बनाया जा सके। अभी तो निगम के पास कोई रिकॉर्ड ही नहीं है।

ताकि कोई भी बिल में बदलाव न कर सके

इस तरह का सॉफ्टवेयर बनाया जाएगा ताकि एक बार बिल निकलने या कारण बताओ नोटिस जारी होने या बिल जमा होने के बाद कोई भी उसमें बदलाव न कर सके। कोई बदलाव करना भी हो तो जब तक बड़े अफसर अपना कोड खोलकर स्वीकृति न दें, निगम का कोई भी कर्मचारी उसमें हेरफेर न कर सके।

एसएमएस से मिलेगी प्रॉपर्टी टैक्स की सूचना

ऐसा सॉफ्टवेयर बनेगा, जो मोबाइल पर प्रॉपर्टी टैक्स संबंधी एसएमएस भेजकर लोगों को सूचित करेगा कि उसका प्रॉपर्टी टैक्स कितना है। जमा करने की अंतिम तारीख कब है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser