पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जलभराव से निपटने की तैयारी:एलएंडटी ने 2 क्रेन, 10 ट्रैक्टर-ट्राॅली और 25 सफाई कर्मचारियों के साथ शुरू की जीटी राेड नाले की सफाई

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पानीपत. जीटी राेड पर बने नाले की सफाई करते हुए एलएंडटी कंपनी के कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
पानीपत. जीटी राेड पर बने नाले की सफाई करते हुए एलएंडटी कंपनी के कर्मचारी।
  • संजय चाैक से भीम गाैडा मंदिर चाैक तक अभी नाले की सफाई नहीं हुई शुरू

शहर के बीचाें बीच जीटी राेड फ्लाई ओवर के नीचे दाेनाें साइड में बने नालाें की सफाई एलएंडटी ने तेज कर दी है। इस काम में कंपनी ने 2 क्रेन, 10 ट्रैक्टर-ट्राॅली व 25 सफाई कर्मचारियों काे लगाया हुआ है, ताकि काम काे तेज गति से करते हुए जल्दी पूरा किया जा सके। कंपनी के अधिकारियाें का दावा है कि माॅनसून शुरू होने से पहले जीटी रोड पर बने नालों की सफाई पूरी करवा दी जाएगी। यह सफाई करीब 15 दिन से चल रही थी, लेकिन 2 दिनाें में कर्मचारी और वाहन दाेगुना बढ़ा दिए हैं।

10 किमी. है नाले की लंबाई
एलएंडटी मेंटेनेंस मैनेजर रूपक भौमिक का कहना है कि शहर में एलएंडटी के नालाें की लंबाई 10 किमी. तक है। यह नाला जीटी रोड के दोनों ओर बना है। यह छोटे बड़े टुकड़ाें में है। माॅनसून की तेज बारिश से पहले ही नालाें काे साफ कराना है, ताकि शहर के अंदर जीटी रोड व आसपास में जलभराव न हाे सके। कंपनी हमेशा से ही रोड मेंटेनेंस का कार्य 12 महीने चलाकर रखती है। पेड़-पौधाें की सफाई, कटाई व छंटाई भी कंपनी करती रहती है। कंपनी ने जिला प्रशासन के साथ तालमेल बनाकर 10 किमी. नालाें की सफाई शुरू की है।

सनाैली राेड पर सीवर सफाई व नालाें का निर्माण भी शुरू
सनाैली राेड पर भी पब्लिक हेल्थ ने अपने सीवर की सफाई शुरू कर दी है। इसके साथ-साथ कांशीगिरि मंदिर से भीम गाैडा मंदिर चाैक तक नाला निर्माण भी तेज गति से शुरू कर दिया है। यह दाेनाें ही काम शुरू कराने के लिए सनाैली राेड बाजार एसाेसिएशन लगातार मांग उठा रही थी। इसके अलावा संजय चाैक से भीम गाैडा मंदिर चाैक तक नाले की सफाई अब तक भी शुरू नहीं हाे पाई है। इससे जलभराव का संकट बना हुआ है।

खबरें और भी हैं...