रुपए के लिए रिश्तों का कत्ल:पर्स चोरी करने के शक में जींद से पानीपत काम दिलाने लाए दोस्त की डंडों से पीट-पीटकर हत्या, दो गिरफ्तार

पानीपत5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में दोस्त के हत्यारा। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में दोस्त के हत्यारा।
  • 27 जून को इसराना के NC मेडिकल कॉलेज के पास मिला था शव, भाई ने कराया था केस दर्ज

पानीपत के इसराना में चार हजार रुपयों के लिए दोस्त को मौत के घाट उतारने का मामला सामने आया है। अपने मामा के घर जींद के हरिगढ़ गया पानीपत के विकास नगर का युवक दो दोस्तों को काम दिलाने की बात कहकर पानीपत लाया था। रात में तीनों एक कमरे में रुके। दो दोस्तों ने पर्स चोरी करने के शक में तीसरे दोस्त की डंडों से जमकर पिटाई कर दी। जिससे उसकी मौत हो गई। आरोपी शव को NC मेडिकल कॉलेज के पास फेंक गए। मृतक के भाई ने इसराना थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। जिसके बाद इसराना थाना पुलिस ने मृतक के दोस्तों से कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने हत्या करना स्वीकार कर लिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को शुक्रवार को कोर्ट में पेश करके जेल भेज दिया है।

इसराना थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अंकित ने बताया कि बीती 27 जून को इसराना के NC मेडिकल कॉलेज के पास अज्ञात युवक का शव मिला था। 30 जून को जींद जिले के हरिगढ़ निवासी कपिल ने अपने भाई प्रदीप की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। शिनाख्त कराने पर शव प्रदीप का निकला।

कपिल ने बताया कि करहंस निवासी बिजेंद्र हाल में पानीपत के विकास नगर में रहता है। बिजेंद्र उनके गांव में अपने मामा के घर आया हुआ था। तब वह उसके भाई प्रदीप और गांव के ही अन्नू को पानीपत में काम दिलाने की बात कहकर अपने साथ ले आया।

काम न मिलने पर कुछ दिन बाद अन्नू को वापस गांव आ गया, लेकिन उसका भाई नहीं आया। पूछने पर अन्नू ने बताया कि प्रदीप पानीपत में ही बिजेंद्र के पास रुका है। जबकि बिजेंद्र ने प्रदीप के उसके पास से जान की बात कही। शक होने पर उसके भाई की गुमशुदगी दर्ज कराई।

इंस्पेक्टर अंकित ने बताया कि जींद से आने के बाद तीनों दोस्त प्रदीप के विकास नगर स्थित किराए के कमरे पर रुके थे। कमरे से बिजेंद्र का पर्स चोरी हो गया। जिसमें करीब चार हजार रुपए थे। पर्स चोरी करने के शक में बिजेंद्र और अन्नू ने प्रदीप की डंडों से जमकर पिटाई की दी। जिससे उसकी मौत हो गई।

पकड़े जाने के डर से दोनों आरोपी बाइक पर प्रदीप के शव लेकर NC मेडिकल कॉलेज के पास पहुंचे और फेंककर वापस भाग गए। मृतक के भाई की शिकायत पर बिजेंद्र और अन्नू से पूछताछ की गई तो उन्होंने प्रदीप की हत्या करना स्वीकार किया है। दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...