• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Out Of 17650 Examinees At 32 Centers In The District, 13711 Gave The Constable's Exam, There Was A Huge Crowd In Government Buses

काॅन्स्टेबल परीक्षा:जिले में 32 सेंटराें पर 17650 परीक्षार्थियों में से 13711 ने दी काॅन्स्टेबल की परीक्षा, सरकारी बसों में रही भयंकर भीड़

पानीपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हरियाणा पुलिस परीक्षा के दाैरान जीटी राेड पर वाहनाेें की संख्या ज्यादा हाेने के कारण लगा रहा जाम। - Dainik Bhaskar
हरियाणा पुलिस परीक्षा के दाैरान जीटी राेड पर वाहनाेें की संख्या ज्यादा हाेने के कारण लगा रहा जाम।
  • 2 घंटे पहले ही परीक्षार्थियों काे कराया प्रवेश, शांतिपूर्वक परीक्षा के लिए 8 ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाए
  • परेशानी- निजी वाहनों में भी पहुंचे बहुत से परीक्षार्थी, शहर में दिनभर रही जाम की स्थिति

जिलेभर में 32 सेंटराें पर 17650 परीक्षार्थियों में से 13711 ने काॅन्स्टेबल (जनरल डयूटी) पुरूष वर्ग की परीक्षा दी। सभी सेंटराें पर शांति पूर्वक परीक्षा के लिए 8 ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए थे। यह परीक्षा सुबह व दाेपहर में 2 सत्र में हुई। सुबह के सत्र में परीक्षा में 8825 में से 6769 परीक्षार्थी और दाेपहर के सत्र में 8825 में से 6942 परीक्षार्थी पहुंचे। डीसी सुशील सारवान ने बताया कि यह परीक्षा शनिवार व रविवार काे तय की गई थी।

शनिवार काे सुबह 10:30 बजे से दोपहर 12 बजे तक और शाम काे दाेपहर 3 बजे से शाम 4:30 बजे तक परीक्षा हुई। इसके लिए एसडीएम धीरज चहल को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया था। एसडीएम ने बताया कि जिला के सभी सेंटराें पर परीक्षा शांतिपूर्वक रही थी। डीएफएससी सुभाष सिहाग, बीडीपीओ मतलौडा अशोक छिक्कारा, जिला बागवानी अधिकारी महावीर सिंह, यूएचबीवीएन के कार्यकारी अभियंता विनोद गोयल व सहायक श्रमायुक्त एसएन शर्मा को डयूटी मजिस्ट्रेट के लिए आरक्षित रखा गया था।

बसाें की छताें पर भी सवार हाेकर पहुंचे

बस स्टैंड तक परीक्षार्थी बसाें की छताें पर सवार हाेकर पहुंचे। वहीं, परीक्षा खत्म हाेने के बाद भी एेसे ही घराें के लिए गए। बस स्टैंड, सिविल अस्पताल, स्काई लार्क चाैक, लाल बत्ती चाैक, संजय चाैक व गाेहाना राेड चाैक के आसपास युवाओं की बहुत ज्यादा भीड़ हाेने से वाहनाें की कतारें लग गई। बहुत से परीक्षार्थी निजी वाहनाें में पहुंचे थे। सेक्टर-13/17 में बहुत से परीक्षार्थियों ने अपना सामान रखने के लिए घराें की घंटियां बजाई। इसके लिए लोग आनाकानी भी कर रहे थे, लेकिन आग्रह करने मान गए।

प्रॉटोकॉल- परीक्षा द्वार पर ही कटवाए हाथाें पर बंधे मन्नतों के धागे

बहुत सारे ऐसे परीक्षार्थी भी थे, जिनके हाथाें व गले में मन्नतों के धागे बंधे थे। पुलिस कर्मियाें ने परीक्षा के द्वार पर ही इन धागाें काे कटवा दिया। कई विद्यार्थियों ने नहीं काटने की रिक्वेस्ट भी की, लेकिन पुलिस कर्मियाें ने कहा कि मन्नतें दिखावा के लिए नहीं हाेती। परीक्षाएं पास करने के लिए मन्नतों के साथ मेहनत से की गई पढ़ाई की जरूरत हाेती है।

खबरें और भी हैं...