पानीपत के समालखा पोस्ट ऑफिस में हंगामा:क्लर्क के इशारे पर 2 कर्मियों की धुनाई; सरकारी दस्तावेज फाड़े, 3 पर FIR

पानीपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी क्लर्क दीपक सैनी। - Dainik Bhaskar
आरोपी क्लर्क दीपक सैनी।

हरियाणा के पानीपत जिले के समालखा कस्बे के पोस्ट ऑफिस में शुक्रवार को हंगामा-मारपीट हुई। क्लर्क से सब पोस्ट मास्टर का कार्यभार बदले जाने से नाराज कर्मी दो साथियों को लेकर कार्यालय में आया और सब पोस्टमास्टर व एक अन्य कर्मी के साथ मारपीट की।

उन्हें जान से मारने की धमकी दी। इतना ही नहीं, आरोपियों ने कार्यालय में सरकारी दस्तावेज भी फाड़ दिए। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शिकायत के आधार पर आरोपी क्लर्क समेत दो के खिलाफ IPC की धारा 186, 332, 353, 323, 506 व 34 के तहत केस दर्ज कर लिया है।

पहले अमित, फिर सब पोस्ट मास्टर को पीटा

समालखा थाना पुलिस को दी शिकायत में दिलबाग सिंह ने बताया कि वह गांव सिवाह का रहने वाला है। वह समालखा अनाजमंडी पोस्ट ऑफिस में सबपोस्ट मास्टर के पद पर कार्यरत है। 17 नवंबर की दोपहर को उसके कार्यालय में कार्यरत क्लर्क दीपक सैनी निवासी गांव कारकौली अपने दोस्तों के साथ आया।

आरोपियों ने फाड़े सरकारी दस्तावेज।
आरोपियों ने फाड़े सरकारी दस्तावेज।

दीपक खुद तो बाहर चला गया। उसके दोस्तों ने पूछा कि अमित दहिया और दिलबाग कौन है। इसके बाद वे दोनों अमित के काउंटर पर गए। जहां उन्होंने अमित के साथ गाली-गलौज की। उसका गला पकड़ कर कहा कि तू बाहर निकल, तुझे जान से मार देंगे।

दस्तावेज फाड़े

आरोपियों ने उसके हाथ से सरकारी दस्तावेज लेकर फाड़ दिए। यह सब देखकर दिलबाग बीच-बचाव के लिए काउंटर पर गया। जहां आरोपियों ने उसके साथ भी गाली-गलौज की। उसे जान से मारने की धमकी दी। आरोपी, सभी आरोपियों को देख लेने की धमकी देते हुए वहां से फरार से चले गए।

आरोपी डेढ साल तक रहा सबपोस्ट मास्टर

दिलबाग ने बताया कि आरोपी दीपक सैनी, जोकि क्लर्क है। उसके पास सबपोस्ट मास्टर का कार्यभार था। मगर, उसके व्यवहार के कारण उससे यह कार्यभार ले लिया गया। जिसके बाद दिलबाग को यह कार्यभार दे दिया था। हालांकि यह फेरबदल हो जाने के 20 दिन बाद उसने अपना पद नहीं छोड़ा था। उसे कई बार पद छोड़ने की बात कही गई थी। पद छीने जाने के बाद से वह रंजिश रखने लगा था। इसी के चलते उसने यह वारदात करवाई है।