पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुधार:लिंगानुपात में पानीपत दूसरे नंबर पर, 2020 में 1 हजार बेटाें पर 947 बेटियां पैदा हुईं

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टाॅप- 18 गांवाें की रिपाेर्ट पढ़िए, इन गांवाें की आबादी 5 हजार या उससे ज्यादा, जहां लड़कियाें ज्यादा जन्मी - Dainik Bhaskar
टाॅप- 18 गांवाें की रिपाेर्ट पढ़िए, इन गांवाें की आबादी 5 हजार या उससे ज्यादा, जहां लड़कियाें ज्यादा जन्मी
  • उपलब्धि, पिछले 6 सालाें में पानीपत का लिंगानुपात 110 अंक बढ़कर 837 से 947 तक पहुंचा
  • 63 गांवाें की आबादी 5 हजार से कम है, लेकिन यहां भी बेटाें से ज्यादा पैदा हुई बेटियां

गाेविंद सैनी,

22 जनवरी 2015, यही वाे दिन था जब देशभर के लिए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान पानीपत की धरती से शुरू किया गया था। इसका शुभारंभ करने भी खुद पीएम नरेंद्र माेदी पानीपत आए थे। पिछले 6 सालाें में पानीपत का लिंगानुपात 110 अंक बढ़कर 837 से 947 तक पहुंचा। 2020 के अंत तक पानीपत दूसरे स्थान पर रहा है। जिले में 2020 में 1 हजार बेटाें पर 947 बेटियां पैदा हुई हैं।

जिले के 190 गांवाें में से 81 गांवाें में बेटियां ज्यादा पैदा हुई हैं। जिले में 38 गांव ऐसे हैं, जिनकी आबादी 5 हजार या उससे ज्यादा है। अच्छी बात ये है कि इन 38 गांव में से 18 गांवाें में बेटियां ज्यादा पैदा हुई है। इन गांवाें में लिंगानुपात 1 हजार से ज्यादा है। वहीं करीब 8 गांवाें में बेटियाें और बेटाें के जन्म की संख्या में मामूली अंतर है।

2015 से अब तक का रिकाॅर्ड

साल लिंगानुपात काैन से नंबर पर रहा

2015 - 837 - अंतिम 5 में 2016 - 912 - टाॅप-15 में 2017 - 945 - नंबर-एक 2018 - 900 - 17वां नंबर 2019 - 939 - तीसरा स्थान 2020 - 945 - दूसरा स्थान

2020 में कार्रवाई भी हुई : 2020 में काेराेना के दाैरान भी पीएनडीटी एक्ट के तहत करीब 10 जगहाें पर छापेमारी की गई। इन सब मामलाें स्वास्थ्य विभाग की टीमाें द्वारा गर्भपात करते हुए डाॅक्टर, क्लीनिक संंचालक, अस्पताल की रिटायर स्टाफ नर्स सहित कई लाेगाें का भंडाफोड़ किया। वहीं एक अस्पताल की अल्ट्रासाउंड मशीन भी सील की गई।

पाेर्टल पर गलती भी हुई, भेजा मेल

पीएनडीटी इंचार्ज एवं डिप्टी सीएमओ डाॅ. सुधीर बत्तरा ने बताया कि सरकार के पाेर्टल पर लिंगानुपात में पानीपत काे 935 अंकाें के साथ छठे नंबर पर दिखाया गया है, यह गलत है। 10 दिन पहले ही हम आंकड़ाें सहित मेल भेज चुके हैं। पानीपत का लिंगानुपात 2020 में ओवरऑल 947 रहा है।

ऐसे आ रहा पाेर्टल और विभाग के आंकड़ाें में अंतर : डाॅ. सुधीर ने बताया कि पाेर्टल के मुताबिक पानीपत में साल 2020 में 16028 लड़के और 14198 लड़कियाें का जन्म बताया गया है। जबकि पानीपत में 13892 लड़काें और 13 हजार 154 लड़कियाें ने जन्म लिया। आंकड़े भेजे गए हैं, जल्द ही सही हाे जाएगा। क्याेंकि पानीपत 2020 के 11 महीनाें में टाॅप पर था। दिसंबर में जिले मे कम लड़कियां पैदा हुई जिसे लिंगानुपात में गिरावट आई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें