पानीपत पुलिस-बदमाशों में मुठभेड़:युवक का अपहरण करके मांगे थे 80 लाख, 2 बदमाशों के पैर में लगी गोलियां

पानीपतएक महीने पहले

हरियाणा के पानीपत जिले की CIA यूनिट और बदमाशों के बीच सोमवार अलसुबह मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ उस दौरान हुई, जब 2 दिन पहले किडनैप किए गए युवक को छुड़वाने की ऐवज में मांगी गई 80 लाख की फिरौती देने परिवार मौके पर पहुंचा।

सोमवार की सुबह बदमाश रुपए लेने के लिए पहले से निर्धारित ठिकाने पर जा रहे थे, इसी बीच पीड़ित परिवार ने पुलिस से संपर्क साधा और बदमाशों के बताए ठिकाने पर पुलिस व पीड़ित परिवार चल दिए। आरोपी मौके पर पहले ही मौजूद थे।

इसके बाद कुटानी रोड से राजाखेड़ी की तरफ सुबह करीब 3:15 बजे पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। पुलिस ने 2 बदमाशों के पैरों में गोलियां मारीं और उन्हें काबू कर लिया। वहीं, अपहरण किए गए युवक को भी उनके चुंगल से छुड़ा लिया।

9 बंदियों के साथ फरार हुआ था एक कुख्यात

पकड़े गए बदमाशों की पहचान नीरज उर्फ सोनू बाबा निवासी भारत नगर व सौरव निवासी सैनी कॉलोनी के रूप में हुई। दोनों बदमाशों के दाहिने पैर में घुटने से नीचे गोली लगी है। बदमाश नीरज कुख्यात अपराधी है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया कि बदमाश हरियाणा की सबसे बड़ी एवं सुरक्षित जेल अंबाला जेल से 9 बंदियों को साथ लेकर फरार हुआ था।

21 मई को दिनदिहाड़े किया था दुकानदार का अपहरण

सैनी कॉलोनी निवासी आशीष सैनी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह दो भाई हैं। वह ऑनलाइन मोबाइल प्रोडक्ट सेल करता है, जबकि छोटे भाई नीरज सैनी की बबैल रोड पर करियाणा की दुकान है। 21 मई की दोपहर को वह अपने भाई नीरज के साथ दुकान पर बैठा हुआ था। नीरज केटीएम बाइक पर सवार होकर दुकान से घर खाना खाने के लिए निकला था, लेकिन घर नहीं पहुंचा।

इसी बीच बहन शिखा ने फोन करके सूचना दी कि नीरज घर नहीं आया। नीरज को पूछने के लिए 4 से 5 युवक घर आए थे, जो बोलेरो गाड़ी में सवार थे। इसके बाद वह दुकान बंद करके अपने भाई की तलाश में निकला तो रास्ते में सैनी ऑटो सेंटर के सामने उसे नीरज की बाइक खड़ी मिली। लोगों ने बताया कि कुछ लोग बेलेरो में छोटूराम चौक की तरफ से आए और नीरज का अपहरण कर ले गए।

्इरसके बाद उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी । किला थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया और कार्रवाई शुरू की।

खबरें और भी हैं...