पानीपत के 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड:लूट पीड़ित से मारपीट करने पर SI; घी व्यापारी को अस्पताल न ले जाने पर SI, कांस्टेबल और SPO पर गिरी गाज

पानीपत7 महीने पहलेलेखक: अमन वर्मा
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पानीपत जिले के 4 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। दो अलग-अलग मामलों में एसपी शशांक कुमार सावन ने कड़ा एक्शन लेते हुए 4 पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की है। इसके अलावा चारों पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू कर दी है। इतना ही नहीं, एक मामले में SI पर मुकदमा भी दर्ज किया गया है। बैक टू बैक पुलिसकर्मियों पर हो रही कड़ी कार्रवाई के बाद महकमे में हड़कंप मच गया है। गौरतलब है कि गत दिनों एसपी ने चार पुलिसकर्मियों को बर्खास्त किया था। मगर चिंतनीय बात यह है कि कार्रवाई के बाद महकमे के मुलाजिम सिर्फ एक बार के लिए ही सचेत होते हैं। कुछ समय निकलता है और वे फिर से लापरवाही बरतने लगते हैं।

समालखा घी व्यापारी को अस्पताल न ले जाने पर तीन सस्पेंड

4 जनवरी की शाम करीब साढ़े 6 बजे समालखा की मातापुली स्थित बाग वाला मोहल्ला में बाइक सवार दो बदमाशों ने घी व तेल व्यापारी राजकुमार उर्फ राजू को गोली मार दी थी। गोली मारने के बाद बदमाश व्यापारी से डेढ़ लाख भी लूट ले गए थे। इस मामले में डायल 112 पर कॉल की गई। कॉल के तुरंत बाद मौके पर पुलिस की EVR पहुंच गई थी। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो राजकुमार खून से लथपथ था और वह उस समय जिंदा था। लोगों ने पुलिस को कहा कि वे राजकुमार को अपनी ही गाड़ी में अस्पताल तक ले जाएं तो पुलिसकर्मियों ने मना कर दिया था।

सूत्रों के मुताबिक, पुलिसकर्मियों ने लोगों को कहा था कि अगर वे राजकुमार को इस हालत में गाड़ी में ले जाएंगे तो उनकी नई गाड़ी खून से सन जाएगी। इसके बाद लोगों ने प्राइवेट वाहन का इंतजाम किया और उसे अस्पताल ले गए थे। मगर तब तक काफी देर हो चुकी थी। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी ने उक्त EVR के SI कर्मबीर, सिपाही सोमबीर और SPO को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया। इतना ही नहीं, कर्मबीर और सोमबीर के खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दे दिए हैं।

राजकुमार उर्फ राजू (फाइल फोटो)
राजकुमार उर्फ राजू (फाइल फोटो)

डायल 112 पर कॉल की, एसआई ने मौके पर पहुंच कर शिकायतकर्ता को पीटा

समालखा थाना पुलिस को दी शिकायत में सुरेंद्र वाधवा ने बताया कि वह प्रशांत विहार, रोहिणी नई दिल्ली का रहने वाला है। 4 जनवरी को वह अपने ड्राइवर मुकेश कुमार निवासी गांव बनवारी पुर जिला बेगुसराय बिहार के साथ अपनी कार में चंडीगढ़ से दिल्ली जा रहा थे। रात करीब 12:30 बजे ड्राइवर मुकेश कुमार ने लघुशंका के लिए कार को रोका और नीचे उतर गया। इसी दौरान वहां पानीपत की तरफ से एक बाइक पर तीन युवक आए। उन्होंने ड्राइवर के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। मारपीट के दौरान उन्होंने ड्राइवर को पिस्तौल दिखाई और सारे रुपए निकालने के बारे में कहा। बदमाशों ने पिस्तौल की नोक पर उससे करीब 1 हजार रुपए लूट लिए। इस दौरान जब सुरेंद्र ने अपने ड्राइवर को बचाने की कोशिश की तो बदमाशों ने उस पर भी पिस्तौल तान दी और उससे भी करीब 25 हजार रुपए लूट लिए। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए।

पीड़ित शिकायतकर्ता सुरेंद्र।
पीड़ित शिकायतकर्ता सुरेंद्र।

वारदात के बाद राहगीरों से सुरेंद्र स्थानीय पुलिस स्टेशन का रास्ता पूछने लगे। राहगीरों ने उन्हें डायल 112 पर कॉल करने की सलाह देते हुए कहा कि पुलिस यही आ जाएगी। उन्होंने डायल 112 पर कॉल की। कंट्रोल रूम से सूचना मिलने के बाद EVR-557 पुलिस मौके पर पहुंची, जिसमें SI हरिदत और पुलिसकर्मी ड्राइवर था। एसआई हरिदत शराब के नशे में था। उसने वहां आते ही पूरे मामले की धमकाते हुए जानकारी ली। जानकारी लेने के दौरान जब ड्राइवर ने बताया कि वह बदमाशों को सामने आने पर पहचान लेगा तो SI हरिदत तैश में आ गया। उसने ड्राइवर को थप्पड़ जड़ दिया और कहा कि तुने सुनसान जगह पर गाड़ी रोकी ही क्यों थी। SI हरिदत के इस रवैया का विरोध किया तो उसने ड्राइवर को पीटना शुरू कर दिया। गाली-गलौज करते हुए SI हरिदत ने ड्राइवर को कहा कि तू भी बिहार से है, तू भी उनसे मिला हुआ होगा।

पंचकूला कंट्रोल रूम कर्मियों ने एसआई की शिकायत की दी सलाह

सुरेंद्र के अनुसार, जब SI हरिदत ने उनके साथ इस तरह का सलूक किया तो उन्होंने फिर से डायल 112 पर कॉल की। उन्हें कॉल करके बताया कि मौके पर पहुंचे एसआई उनके साथ मारपीट और गाली-गलौज कर रहे हैं तो कंट्रोल रूम कर्मियों ने उन्हें सलाह दी कि वह जब अपने साथ हुई लूट की शिकायत पुलिस को देंगे तो उसमें एसआई द्वारा मारपीट करने की शिकायत भी लिख दें। कंट्रोल रूम कर्मियों ने यह भी कहा कि उन्होंने सुरेंद्र की इस शिकायत को रिकॉर्ड कर लिया है। उनकी शिकायत पर कार्रवाई जरूर होगी। समालखा थाना पुलिस ने तीन अज्ञात लुटेरों समेत SI हरिदत के खिलाफ 323, 379B, 34, 506 IPC और 25 आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...