• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • People Are Not Getting Vaccines Due To Festivals, 64 Thousand Less Vaccines Were Taken In The Last 14 Days Than In September, 8,953 Will Be Brought To A Record 107 Centers On Thursday, Due To The Festival, Today Will Be A Holiday

अक्टूबर में घटा वैक्सीनेशन:त्योहारों के चलते लोग नहीं लगवा रहे वैक्सीन, सितंबर के मुकाबले बीते 14 दिनों में 64 हजार टीके कम लगे, गुरुवार काे रिकॉर्ड 107 सेंटरों पर 8,953 लाेगाें काे डाेज लगी, पर्व के चलते आज रहेगी छुट्‌टी

पानीपत2 महीने पहलेलेखक: गाेविंद सैनी
  • कॉपी लिंक
कोरोना से बचाव को वैक्सीन लगवाता युवक। - Dainik Bhaskar
कोरोना से बचाव को वैक्सीन लगवाता युवक।

त्योहारों के चलते अब लोगों की वैक्सीन लगवाने में रुचि कम हो गई है। इसी कारण जिले में अक्टूबर में वैक्सीनेशन बढ़ने की बजाए घट गया है। गुरुवार काे रिकॉर्ड 107 सेंटराें पर सिर्फ 8 हजार 953 लाेगाें काे डाेज लगी है।

वहीं, 15 से ज्यादा सेंटराें पर 7 से लेकर 50 लाभार्थी तक ही पहुंचे। अक्टूबर में अब तक सितंबर के मुकाबले 50 हजार कम टीके लगे है। जिले में सितंबर के 14 दिनाें में 1 लाख 44 हजार 659 लाेगाें डोज लगी थी। यानी रोजाना 10 हजार 354 से ज्यादा लोगों को डोज लग रही थी। वही, अक्टूबर के 14 दिनाें में सिर्फ 80 हजार 238 लोगों को डोज लगी है। यानी रोजाना करीब 5 हजार 731 को डोज लग रही है। वहीं जिले में दशहरा पर्व के चलते शुक्रवार काे वैक्सीन नहीं लगेगी।

सितंबर-अक्टूबर में लगे टीकों का रिकाॅर्ड

तारीख सितंबर अक्टूबर

  • 1 2160 16,320
  • 2 12169 10,109
  • 3 3289 1,589
  • 4 3331 6,013
  • 5 12116 7,003
  • 6 2032 3,172
  • 7 464 3,083
  • 8 5338 4,368
  • 9 28661 6,717
  • 10 6779 3,846
  • 11 12206 3,477
  • 12 23463 3,672
  • 13 10532 1916
  • 14 22119 8,953

वैक्सीन कम लगने के दो प्रमुख कारण

  • 1. डाेज पर्याप्त, लाेग नहीं आ रहे

जिले में वैक्सीन की कमी नहीं है। जिले के स्टाॅक में करीब 70 हजार डाेज है। अब लाेग त्याेहारी सीजन के चलते पहली डाेज लगवाने वालों की संख्या भी कम हाे रही है। गुरुवार काे जिले में सबसे ज्यादा 107 सेंटराें पर डाेज लगी। तब भी कुल वैक्सीनेशन 9 हजार तक भी नहीं पहुंचा है।

  • 2. सत्संग व्यास भवन में नहीं लग रहे कैंप

इस महीने में किसी भी राधा स्वामी सत्संग व्यास भवन में वैक्सीनेशन कैंप नहीं लग पाया है। इनमें सत्संग शुरू हो गया है। स्वास्थ्य विभाग को इन भवनों से अच्छी और बड़ी जगह नहीं मिल पा रही है कि एक साथ 7 से 8 टीम एक जगह बैठकर लोगों को टीके लगा सके। दूसरा इन सत्संग भवनों में भीड़ को मैनेज करने से लेकर लोगों को टीके लगाने तक कि टीम राधा स्वामी समिति की हो होती थी।

खबरें और भी हैं...