पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नगर निगम को मिलेंगे 6 पुलिसकर्मी:अतिक्रमण रोकेंगे पुलिसकर्मी, निगम देगा वेतन

पानीपत5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीएम के साथ मेयर की बैठक में तय हुए पब्लिक से जुड़े कई पाॅइंट

नगर निगम को 6 पुलिसकर्मी मिलने जा रहे हैं। जिसका उपयोग खास करके बाजारों में अतिक्रमण रोकने में किया जाएगा। इन पुलिसकर्मियों की सैलरी नगर निगम ही देगा। मंगलवार को चंडीगढ़ में सीएम मनोहर लाल की प्रदेश के मेयरों के साथ मीटिंग हुई। पानीपत की मेयर अवनीत कौर ने यह मामला रखा तो सीएम ने मांगें मानते हुए सभी एसपी को इस संबंध में आदेश जारी करने को कहा। मेयर अवनीत कौर ने कहा कि इन पुलिसकर्मियों को शहर के बाजारों में दुकानदारों का अतिक्रमण रोकने में लगाया जाएगा। साथ ही कभी-कभार निगम को दूसरे कामों में भी पुलिस की जरूरत पड़ती है। वहां भी पुलिस का सहयोग लेंगे।

प्लॉट के सब-डिवीजन की मंजूरी नगर निगम देगा
मेयर ने सीएम के सामने बात रखी कि प्लॉट के टुकड़े करने में बड़ी दिक्कत आ रही है। खासकर मॉडल टाउन एरिया में यह बड़ा मुद्दा है। अगर किसी के पिताजी के नाम से 1000 वर्ग गज का प्लॉट है और अब उनके दो बेटों में बांटना है तो एनडीसी नहीं बन रही है। इस पर सीएम ने कहा कि कम से कम 200 वर्ग गज तक के प्लॉट के सब-डिवीजन करने की शक्ति निगम को दी जा रही है। इसके लिए नोटिफिकेशन जारी होगा।

सरकारी बिल्डिंग का हाउस टैक्स सरकार देगी
मेयर ने सीएम के सामने मांग रखी कि सरकारी बिल्डिंग के हाउस टैक्स नहीं आ रहे हैं। इस पर सीएम ने कहा कि हर सरकारी बिल्डिंग के लिए हर साल बजट जारी होता है। ऐसा प्रावधान किया जा रहा है कि हर साल सरकार ही वह टैक्स निगम के खाते में जमा करा देगी। वहीं, मेयर ने सीएम के सामने नगर निगम को एक ही बिल्डिंग में समेटने की मांग की।

एचसीएस कमिश्नर है तो पूरा एसीआर लिखेंगे मेयर
मेयर ने कमिश्नर का एसीआर लिखने के लिए भी पावर मांगी। अब तक मेयर की राय पूछकर एसीएस एसीआर बनाते हैं। सीएम ने कहा कि अगर आईएएस कमिश्नर हैं तो मेयर और एसीएस दोनों को आधा-आधा नंबर देने का अधिकार होगा। वहीं, एचसीएस अगर कमिश्नर होंगे तो उस केस में पूरा अधिकार मेयर को ही मिलेगा।

खबरें और भी हैं...