पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अच्छी खबर:सिविल अस्पताल में 15 दिनों से बंद रैबीज इंजेक्शन और एक्स-रे सुविधा कल से शुरू

पानीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सिविल अस्पताल ने खरीदे रैबीज इंजेक्शन, एक्स-रे मशीन करवाई ठीक

सिविल अस्पताल में आने वाले मरीजाें के लिए अब एक अच्छी खबर है। पिछले 15 दिनाें से खराब पड़ी एक्स-रे मशीन अब ठीक हाे गई है ताे वहीं, स्वास्थ्य विभाग ने लाेकल बजट से रैबीज के इंजेक्शन खरीदे हैं। ये दाेनाें सेवाएं पिछले करीब 15 दिनाें से बंद पड़ी थीं। अब दाेनाें सेवाएं एक बार फिर से मरीजाें काे मिलनी शुरू हाे जाएंगी।

बता दें कि जिले में पिछले 15 दिनाें से रैबीज इंजेक्शन नहीं हाेने के कारण मरीजाें काे प्राइवेट अस्पताल से टीके लगवाने पड़ रहे थे। 15 दिनाें से जिले में 29 स्वास्थ्य केंद्राें पर ये टीके खत्म थे। प्रदेशभर में इसका अब भी टाेटा बना हुआ है। स्टेट वेयर हाउस से इसकी सप्लाई अभी नहीं आई है। क्याेंकि वहां पर भी इसका स्टाॅक खत्म है। अस्पताल में राेजाना 2 से तीन केस कुत्ते काटने के केस अाते हैं। वहीं एक्स-रे विभाग से भी राेजाना 70 से 75 मरीजाें काे बिना एक्स-रे के लाैटना पड़ रहा था।

दाेनाें सेवाएं साेमवार से मिलेंगी: एमएस डाॅ. आलाेक जैन ने बताया कि विभाग ने अपने लाेकल बजट से 50 हजार रुपए के रैबीज इंजेक्शन खरीदे हैं। 300 रुपए पर टीके के हिसाब से। स्टेट वेयर हाउस में भी डिमांड भेजी हुई है। वहां पर सप्लाई आने के बाद जिले काे रैबीज इंजेक्शन मिलेंगे। वहीं एक्स-रे मशीन की कैसेट खरीदी गई है। ये दाेनाें सेवाएं साेमवार से मरीजाें काे मिलना शुरू हाे जाएंगी।

दुर्घटना में घायल मरीज भी करवा सकते हैं एक्स-रे

एक्स-रे विभाग: पिछले 15 दिनाें से किसी का भी एक्स-रे नहीं हाे रहा था। क्याेंकि मशीन की कैसेट खराब पड़ी थी। शनिवार काे कंपनी के कर्मचारियाें ने नई कैसेट दे दी है और साेमवार से एक्स-रे शुरू हाे जाएंगे। अब उन मरीजाें सहित एक्सिडेंट में घायल मरीज भी अपना एक्स-रे करवा सकते हैं।

रैबीज इंजेक्शन: रैबीज इंजेक्शन स्वास्थ्य विभाग ने लाेकल बजट से 50 हजार रुपए के करीब 170 टीके खरीदे हैं। सिविल अस्पताल में बीपीएल काे फ्री में और सामान वर्ग काे 100 रुपए में टीका लगाया जाता है। रैबीज इंजेक्शन खत्म हाेने के कारण मरीजाें काे प्राइवेट अस्पतालाें से 250 से 500 रुपए में लगवाने पड़ रहे थे।

पर्ची के लिए आधार कार्ड अनिवार्य

बिना आधार कार्ड के इलाज के लिए ओपीडी की पर्ची नहीं बनेगी। इसके लिए जिला अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारियों ने पंजीकरण कार्यालय पर नाेटिस भी लगा दिया है। इसमें लिखा गया है कि किसी भी मरीज की बिना आधार कार्ड के पर्ची नहीं बनेगी। इलाज कराने के लिए आधार कार्ड लाना आवश्यक है। इसके साथ-साथ नए साल से अब दाेबारा पर्ची बनेगी। अब पिछले साल की पर्चियाें पर भी इलाज की नई तारीख नहीं डलेगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें