सीपीसीबी से आई वैज्ञानिक ने किया 10 इंडस्ट्रीज का निरीक्षण:सैलून व बैंक्वेट हाॅल के बाहर चल रहे जेनसेट सील किए, दो निर्माण रुकवाए

पानीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पॉल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड की टीम ने माॅडल टाउन में मेकअप एक्सपर्ट सैलून के चलते मिले जेनसेट काे किया सील।

ग्रैप प्लान लागू हाेने के बाद भी न ही लाेगाें ने जेनसेट चलाना बंद किया है अाैर न ही निर्माण कार्य रुकवाया है। साेमवार काे केंद्रीय पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड से अाई वैज्ञानिक (बायाेलाॅजिकल) विनीता ने टीम के साथ मिलकर माॅडल टाउन अाैर अाेल्ड इंडस्ट्रियल एरिया में निरीक्षण किया। इस दाैरान टीम ने 10 इंडस्ट्रियाें में पहुंच जांच की। माॅडल टाउन में मेकअप एक्सपर्ट सैलून के बाहर अाैर अाेल्ड इंडस्ट्रियल एरिया में बैंक्वेट हाॅल के बाहर चल रहे जेनसेट सील कर दिए। साथ ही दाे कंट्रक्शन काे रुकवा दिया। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के रीजनल अाॅफिसर कमलजीत सिंह ने बताया कि प्रदूषण काे स्तर काे नियंत्रण मे ंकरने के लिए ग्रैप प्लान लागू कर दिया गया है। इसकी जांच टीमें लगातार फील्ड में अाकर कर रही हैं। साेमवार काे सीपीसीबी से अाई वैज्ञानिक विनीता ने टीम के साथ माॅडल टाउन अाैर अाेल्ड इंडस्ट्रियल एरिया में पहुंचकर कई स्थानाें पर निरीक्षण किया। टीम ने डाइंग इंडस्ट्रियाें से लेकर दुकानाें अाैर शाेरूम के बाहर रखे जेनसेट भी चेक किए। टीम ने निरीक्षण के दाैरान अाेल्ड इंडस्ट्रियल एरिया में गाेयला स्पीनर अाैर एक शाॅप के निर्माण कार्य काे रुकवा दिया। एसडीअाे प्रदीप कुमार ने सख्त निर्देश दिए कि फिर से निर्माण कार्य कराया गया ताे कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बताया कि बोर्ड ने ग्रैप के नियमों का उल्लंघन करने वालाें पर 10 लाख से 80 लाख रुपए तक जुर्माने का प्रावधान है।

खबरें और भी हैं...