पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

श्री एसडी एजुकेशन सोसायटी विवाद:सचिव ने 8 नवंबर को चुनाव कराने की घोषणा की, गोयला गुट बोला-पदाधिकारियों को ये अधिकार नहीं

पानीपत13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नई कार्यकारिणी के गठन को लेकर दोनों गुट आमने-सामने
  • चुनाव के विरोध में तर्क: न पदाधिकारियों ने त्यागपत्र दिया न सदस्यों की सूची अपडेट तो चुनाव कैसे

श्री एसडी एजुकेशन सोसायाटी की नई कार्यकारिणी के चुनाव के लिए 8 नवंबर का दिन घोषित कर दिया गया है। सोसायटी सचिव दिनेश गोयल ने सभी पदाधिकारियों व सदस्यों को संदेश भेजकर इससे अवगत करवा दिया है। वहीं गोयला गुट व सोसायटी के प्रधान पद से हटाए गए विजय अग्रवाल ने इस चुनाव को असंवैधानिक करार दिया है। इनका कहना है कि सोसायाटी के कुछ पदाधिकारियों को यह अधिकार ही नहीं है कि वे कोई बैठक कर चुनाव की तारीख घोषित कर दें।

सोसायाटी के 4 स्कूल, एक काॅलेज व एक इंजीनियर कॉलेज में पढ़ते हैं 20,000 से ज्यादा विद्यार्थी : शहर की प्रतिष्ठित श्री एसडी एजुकेश सोसायटी के शहर में 6 स्कूल, एक काॅलेज व एक इंजीनियर कॉलेज हैं। इनमें एसडीवीएम सिटी, एसडीवीएम सीनियर विंग, एसडी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, एमएएसडी पब्लिक स्कूल, एसडी पीजी कॉलेज व एपिट एसडी इंडिया इंजीनियरिंग कॉलेज हैं। इनके अलावा सेक्टर-6 में एसडी पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल का भवन निर्माणाधीन है।

गोयला गुट का आरोप- 300 में से 13 सदस्यों पर कोर्ट में केस चल रहा

त्यागपत्र और सदस्यों की सूची की प्रक्रिया पहले होनी चाहिए

गोयला गुट के प्रवीन गोयल का कहना है कि अभी तक किसी भी पदाधिकारी ने अपने पद से त्यागपत्र नहीं दिया है। समिति सदस्यों की अपडेट सूची भी जारी नहीं की गई है। हरियाणा सोसायटी एक्ट के तहत दोनों प्रक्रियाएं चुनाव से पहले जरूरी हैं। ये प्रक्रियाएं पूरी नहीं होने व अन्य नियमों का पालन नहीं होने के कारण चुनाव संवैधानिक नहीं है।

दिसंबर 2018 में हुआ था चुनाव: 3 साल के लिए बनती है समिति

समिति चुनाव में 33 पदाधिकारियों को 3 साल के लिए चुना जाता है। मौजूदा सोसायटी का चुनाव दिसंबर 2018 में हुआ था। अभी भी खुद को प्रधान बताने वाले विजय अग्रवाल का कहना है कि मैं चुनाव प्रक्रिया के तहत दिसंबर 2021 तक चुना गया था। तब तक मैं ही प्रधान हूं। इससे पहले चुनाव कानून के खिलाफ है।

सोसायाटी में 300 मेंबर और 33 पदाधिकारी : सोसायटी में करीब 300 मेंबर हैं। वहीं 33 पदाधिकारी चुने जाते हैं। गोयला गुट के प्रवीन गोयल का आरोप है कि 300 में से 13 मेंबरों पर तो कोर्ट केस चल रहा है।

2018 के चुनाव से एक दिन पहले गोयला गुट ने किया था बहिष्कार

दिसंबर 2018 में हुए चुनाव से ठीक एक दिन पहले गोयला गुट ने बैठक कर इसका बहिष्कार करने की घोषणा की थी। जबकि मित्तल गुट ने 20 पदों पर चुनाव लड़ने की सभी पूरी तैयारियां की थी, क्योंकि गोयल गुट ने 13 पदों पर अपना कोई उम्मीद्वार नहीं उतारा था। इसी कारण 20 पदों पर ही चुनाव हुआ था।

चुनाव के पक्ष में तर्क: समय से पहले चुनाव कराने के लिए बने हैं नियम

खुद को प्रधान बताने वाले विजय अग्रवाल का कहना है कि किसी भी स्थिति में अगर समय से पहले चुनाव कराना पड़े तो इसके भी नियम है। सबसे पहले सोसायटी की हाउस मीटिंग बुलाई जाती है। मैंने 9 सितंबर को जिला रजिस्ट्रार को अपील कर किसी भी प्रकार की बैठक या गतिविधि नहीं होने देने की मांग की थी। इसे स्वीकार कर लिया गया था।

चुनाव की तारीख 8 नवंबर तय हुई है : गुप्ता

श्री एसडी एजुकेशन सोसायटी पानीपत द्वारा संचालित शिक्षण संस्थाओं के मैनेजमेंट के पदाधिकारियों के चुनाव की तारीख 8 नवंबर 2020 घोषित की गई है। चुनाव कराने का निर्णय सोसायटी हित में लिया गया है।
-दिनेश गोयल, सचिव, श्री एसडी एजुकेशन सोसायटी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें