दर्दनाक हादसा:पानीपत में बहन-भाई नहर मेंं गिरे, लोगों ने महिला को बचाया, डूबने से भाई की मौत

पानीपत9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रेरकलां में मूनक पुल के पास घटना, रूठने के बाद मायके जा रही थी महिला

रूठने के बाद मायके जा रही 32 वर्षीय सुमन व उसका भाई 35 वर्षीय राजेश उर्फ राजू शुक्रवार शाम करीब 4 बजे दिल्ली पैरलल नहर में गिर गए। लाेगाें ने बहन काे जिंदा बाहर निकाल लिया, जबकि भाई की डूबने से माैत हाे गई। घटना रेरकलां गांव के नजदीक मूनक पुल के पास हुई। जब दाेनाें नहर में गिरे ताे काफी लाेग एकत्र हाे गए, लेकिन सिर्फ दाे युवकाें काे तैरना आता था।

पहले दाेनाें ने सुमन काे निकाला, जब तक राजेश बह गया। उसने हेलमेल लगा रखा था, इसलिए उसका हेलमेट पानी में तैरते हुए दिख रहा था। इस बीच लाेगाें ने बचाने की आवाजें लगाईं ताे एक युवक बचाने के लिए भी कूदा, लेकिन उसे भी तैरना नहीं आता था वाे डूबते-डूबते बचा। बाद में जिन युवकाें ने बहन काे बचाया वे दाैड़कर अाए और नहर में कूद गए। तब एक सरदार ने अपनी सिर की पगड़ी खाेलकर नहर में फेंक दी। जिसकी मदद से लाेग भाई काे बाहर निकालकर लाए। लेकिन भाई की जान नहीं बचा पाए।

शनिवार काे पुलिस ने पाेस्टमार्टम के बाद शव परिजनाें काे साैंप दिया। परिजनाें ने सुमन के पति पर दाेनाें काे धक्का देने का आराेप लगाया है। बाेहली चाैकी इंचार्ज रविंद्र ने बताया कि दाेनाें नहर में कैसे गिरे, इसका पता नहीं चल पाया। जांच कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...