पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

काेराेना संक्रमण:शहरवासियाें के लिए मुस्कुराने का दिन क्याेंकि 127 दिन बाद शहर में 0 केस, ग्रामीण से 3 संक्रमित मिले

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इससे पहले 11 फरवरी काे पूरे जिले में ही काेराेना का काेई केस नहीं आया था। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
इससे पहले 11 फरवरी काे पूरे जिले में ही काेराेना का काेई केस नहीं आया था। फाइल फोटो
  • जिले में अब तक 31 हजार 23 पाॅजिटिव मिले, इनमें से 30 हजार 320 ठीक हाे चुके, अभी भीड़ वाले इलाकाें में जाने से बचें

पानीपत अब जीत की ओर बढ़ रहा है। 127 दिन के बाद शुक्रवार काे पानीपत शहरवासियाें के लिए मुस्कुराने का दिन रहा। क्याेंकि शहर से एक भी नया केस नहीं मिला। इससे पहले 11 फरवरी काे पूरे जिले में ही काेराेना का काेई केस नहीं आया था। हालांकि शुक्रवार काे तीन नए केस आए हैं। तीनाें केस गांवाें से आए हैं लेकिन ये शुरुआत भी है काेराेना केसाें की। इसके लिए जिलेवासियाें काे सतर्क रहना हाेगा।

क्याेंकि 1 और 11 फरवरी काे जिले में 0 केस ताे जरूर मिले लेकिन इसके बाद त्याेहार, शादियां, काॅलेज और स्कूल सब खाेलने की परमिशन मिली और लाेगाें ने काेराेना काे हल्के में लेते हुए भीड़भाड़ के इलाकाें में साेशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया और न ही मास्क का। नतीजा ये हुआ कि एकाएक केस बढ़ते चले गए। अब विदेशाें में काेराेना की तीसरी लहर ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है।

ऐसे में सतर्क रहना ही सबसे बेहतर हाेगा, ताकि काेराेना की तीसरी लहर काे राेक सकें। जिले में अब तक काेराेना के 31 हजार 23 पाॅजिटिव मिले, इनमें से 30 हजार 320 मरीज ठीक हाे चुके हैं। 632 लाेगाें की जान भी गई है।

अब सतर्क रहना हाेगा क्याेंकि सब खुल रहा है

फरवरी महीने के बाद जिले में अब फिर जून में धीरे-धीरे सबकुछ खुलता जा रहा है। दुकानाें काे खाेलने का समय बढ़ गया है। शादियाें का सीजन भी आ रहा है। स्कूल और काॅलेज भी खुल सकते हैं। ऐसे में हमें सतर्क रहना हाेगा। भीड़ वाले इलाकाें में जाने से बचना हाेगा। मास्क पहना हाेगा।

अपनी बारी आने पर वैक्सीन भी लगवानी हाेगी। तभी हम काेराेना की तीसरी लहर राेकने में कामयाब हाे सकते हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग काे बहुत तेजी से वैक्सीनेशन करना हाेगा। बेड, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की पहले से व्यवस्था करनी पड़ेगी।

पिछले 10 दिनाें में मिले केस और रिकवरी

लगातार केस मिलने के बाद कब-कब शहर से 0 केस मिले

खबरें और भी हैं...