पानीपत में युवक ने किया सुसाइड:गृह क्लेश से परेशान था; 9 माह पहले हुई शादी, पत्नी भी करती थी झगड़ा

पानीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पानीपत शहर की वधावाराम कॉलोनी में एक युवक ने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। शव को फंदे से लटका देख मकान मालिक ने इसकी सूचना उसके परिजनों को दी। सूचना मिलते ही परिजन पहुंचे और मामले की सूचना पुलिस को दी।

पुलिस की मौजूदगी में शव को फंदे से नीचे उतारा गया और पंचनामा करके सिविल अस्पताल भिजवाया गया। परिजनों के बयानों के आधार पर पुलिस ने मामले में इतेफाकिया कार्रवाई करते हुए पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है।

पत्नी ससुराल कम और मायका ज्यादा रही

पुलिस को दिए बयानों में पिता हरीश चरण ने बताया कि उनके 5 बच्चे थे। एक बेटे की पहले ही बीमारी से मौत हो चुकी है। सबसे बड़ा लड़का रामबाबू है, फिर बेटी रजनी, मोहन, रवि व सोनू था। रवि की पहले मौत हो चुकी है। मोहन (30) की 9 माह पहले शादी हुई थी। उसकी शादी संतरा निवासी बिहार से हुई थी।

मोहन एक शटरिंग की दुकान पर काम करता था। शादी के बाद से ही पत्नी अक्सर उससे झगड़ा करती थी। वह झगड़े का कारण मोहन के शराब पीने को बनाती थी, जबकि हकीकत यह है कि संतरा अपने जीजा और बहन के कहने पर चल रही थी। वह अक्सर मोहन को छोड़कर घर जाने की बात कहती थी।

पिता ने यह भी बताया कि संतरा इन 9 महीनों में ससुराल में कम, अपने मायके में अधिक रही है। मोहन अपनी पत्नी से प्रताड़ित था। सोमवार शाम मोहन काम से वापस लौटा। मंगलवार सुबह उसे मकान मालिक ने फंदे पर लटका देखा।