पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस की कार्रवाई:चाेरी के डंफर के चेसिस नंबर बदलने वाला आरोपी गिरफ्तार

पानीपत18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चाेरी के डंफर के चेसिस नंबर बदलने वाले आराेपी पंजाब के राेपड़ जिले के गार्डन काॅलाेनी निवासी शमशेर उर्फ शेरा पुत्र मेहताब सिंह काे सीआईए-3 ने शुक्रवार काे गिरफ्तार किया है। शनिवार काे काेर्ट में पेश कर उसे जेल भेज दिया। आराेपी से चेसिस नंबर बदलने में इस्तेमाल उपकरण भी बरामद हुआम है। मामले में अब तक 5 आराेपी पकड़े जा चुके हैं।

सीआईए-थ्री प्रभारी अनिल छिल्लर ने बताया कि 14 अप्रैल को चौटाला रोड पर तामशाबाद के संदीप पुत्र विरेंद्र काे गिरफ्तार कर चाेरी का डंफर व फर्जी आरसी बरामद की थी। बाद में उससे चाेरी के 7 और डंफर बरामद हुए थे। डंफर उसने राजस्थान के नागाैर निवासी ओमप्रकाश से सस्ते दामाें में खरीदा था। ओमप्रकाश ने पटियाला निवासी चंद्रमोहन उर्फ भोला से फर्जी आरसी तैयार करवाकर उसे दी थी।

भाेला काे गिरफ्तार किया। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि डंफरों के फर्जी कागजात बठिंडा निवासी जितेंद्र उर्फ जीतू से तैयार करवाकर वह ओमप्रकाश काे देता था। भाेला की निशानदेही पर जीतू भी पकड़ा गया। उसने बताया था कि बठिंडा में उसकी जतिन इंटरप्राइजिज के नाम से ऑनलाइन फार्म भरने व रेलवे टिकट बुकिंग करने की दुकान है।

2018 में भाेला से मुलाकात हुई। तब दाेनाें ने डंफर के फर्जी कागजात तैयार करने की साजिश बनाई। अब तक वह भाेला काे 4 फर्जी आरसी तैयार करवाकर दे चुका है। प्रति फर्जी आरसी के वह एक लाख रुपए लेता था। ओमप्रकाश राजस्थान के डूंगरपुर जेल में बंद था। उसे प्राेडेक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ की ताे पता चला कि चाेरी के डंफर पर शमशेर से फर्जी चेसिस नंबर गुदवाकर उसने डंफर संदीप काे बेचे थे। शुक्रवार काे शमशेर काे गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...