पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • The Alcoholic Father Begs Children In Panipat, Leaving Work, Stains Body With Cigarette On Protest, Police Is Searching

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नशे ने नाश की जिंदगी, बच्चों को बनाया भिखारी:काम छोड़कर पानीपत में बच्चों से भीख मंगवाता है शराबी पिता, विरोध पर सिगरेट से दागता है शरीर, पुलिस कर रही तलाश

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अब बच्ची को CWC ने रेस्क्यू किया है। काउंसिलिंग के दौरान बच्ची ने दर्दनाक राज खोले। मूलरूप से बिहार की रहने वाली बच्ची पानीपत में अपना सही पता नहीं बता पा रही है। - Dainik Bhaskar
अब बच्ची को CWC ने रेस्क्यू किया है। काउंसिलिंग के दौरान बच्ची ने दर्दनाक राज खोले। मूलरूप से बिहार की रहने वाली बच्ची पानीपत में अपना सही पता नहीं बता पा रही है।
  • CWC ने सेक्टर-12 से किया बच्ची का रेस्क्यू, काउंसिलिंग के दौरान खोले दर्दनाक राज
  • बिहार का रहने वाला है परिवार, बच्ची पानीपत में नहीं बता पा रही अपना सही पता

नशे की लत पूरी करने के लिए एक पिता ने अपने सभी पांच बच्चों को भिखारी बना दिया। चार भाई और बहन पिता की शराब के लिए पैसे जुटाने को दिनभर रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर भीख मांगने को मजबूर हैं। भीख न मांगने पर अत्याचारी पिता मासूम बच्चों का शरीर सिगरेट से दागता है। अब बच्ची को CWC ने रेस्क्यू किया है। काउंसिलिंग के दौरान बच्ची ने दर्दनाक राज खोले। मूलरूप से बिहार की रहने वाली बच्ची पानीपत में अपना सही पता नहीं बता पा रही है। CWC और सेक्टर 11-12 चौकी पुलिस अत्याचारी पिता की तलाश में जुटे हैं।

चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की चेयरपर्सन पदमा रानी ने बताया कि उन्हें सेक्टर-12 में एक बच्ची के लावारिस हालत में हाेने की सूचना मिली। सेक्टर 11-12 चौकी पुलिस के साथ टीम मौके पर पहुंची तो मकान संख्या 548 के बाहर करीब 14 साल की बच्ची मिली। तब बच्ची कुछ बोलने की हालत में नहीं थी। बच्ची को उझा रोड स्थित ओपन सेल्टर होम में रखा गया।

मंगलवार को बच्ची की काउंसिलिंग की तो उसने अपना नाम और पिता का नाम बताया। बच्ची ने बताया कि वह मूलरूप से बिहार के रहने वाली है। फिलहाल वे पानीपत में रहते हैं। उसने इंद्रा कॉलोनी में ज्ञान ज्योति स्कूल के पास अपना पता बताया। टीम बच्ची को लेकर वहां पहुंची, लेकिन वह अपना घर नहीं बता पाई। काउंसिलिंग के दौरान बच्ची ने बताया कि वह चार भाई और अकेली बहन है।

भीख न मांगने पर सिगरेट से दागता है पिता
पिता पहले मजदूरी करते थे। अब उन्होंने काम छोड़ दिया और सभी पांचों भाई-बहनों से रेलवे स्टेशन व बस स्टैंड पर भीख मंगावते हैं। भीख मांगने का विरोध करने पर पिता सिगरेट से उसके हाथों को दागते हैं। जिससे परेशान होकर वह घर जाने के बजाय सेक्टर-12 में आ गई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

और पढ़ें