पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सेवा भाव:23 काेराेना मृतकाें के परिजनाें ने जन सेवा दल के सदस्यों काे साैंपी अस्थियाें की हांडी, बाेले- इन्हें मुक्ति दिला देना

पानीपत14 दिन पहलेलेखक: नरेश मेहरा
  • कॉपी लिंक
  • 125 अज्ञात अस्थियाें की बेकदरी न हाे, इसलिए रिकाॅर्ड भी बनाया, हर पाेटली पर लिखी है तारीख

कोरोना संक्रमित हाेकर जान गंवाने वाले 23 मृतकाें की आत्माओं काे अब शांति मिलने के लिए भी इंतजार करना पड़ रहा है। इनके परिजन जन सेवा दल के सेवादाराें काे अस्थियाें की हांडी साैंपकर चले गए हैं। सेवादारों ने बताया कि इन मृतकाें के परिजनाें ने नम आंखाें से अस्थियाें की हांडी साैंपते हुए एक ही बात बाेली थी कि अब इन्हें मुक्ति भी आप ही दिलाना।

अब ताे ऐसा भी मंजर आ गया है कि काेविड मृतकाें के परिजन बिना किसी काे बताए, अस्थियाें की हांडी तक छाेड़कर जाने लगे हैं। ऐसे ही काेई परिवार अपने मृतक की अस्थियाें की हांडी पीपल के पेड़ के नीचे रखकर ही चले गए। इनके अलावा 125 मृतक ऐसे हैं, जिनकी जान काेराेना में नहीं गई। ये किसी न किसी दुर्घटना या हादसे का शिकार हाे गए और जान गवां दी। इनके परिजनाें का ताे आज तक पता ही नहीं चला है। लेकिन संस्था से जुड़े लोगों ने इनके अस्थि विसर्जन किसी प्रकार की कमी नहीं की है।

काेराेना महामारी में मृतकाें के संस्कार बढ़ने से हरिद्वार नहीं जा सके सेवादार

जन सेवा दल की टीम अज्ञात मृतकाें की अस्थि विसर्जन के लिए हर तीसरे महीने में हरिद्वार जाती है। अप्रैल में जाना था, लेकिन काेविड मृतकाें की संख्या ज्यादा है। राेजाना 15 से ज्यादा हाे रहे हैं। ऐसे में हरिद्वार पहुंचना संभव नहीं हाे रहा है। इसलिए जनवरी से अब-तक विसर्जन काे नहीं जा पाए हैं।

हरिद्वार में विधि-विधान से विसर्जन करते हैं, जमा हो चुकी 125 अस्थियां

इससे जुड़े चमन लाल गुलाटी व कपिल मल्हाेत्रा का कहना है कि अज्ञात की अस्थियाें की बेकदरी नहीं हाेने दी जाती। हरिद्वार में विधि विधान से विसर्जन होता है। हर पाेटली पर संस्कार की तारीख लिखी जाती है। इस समय ऐसी 125 मृतकाें की अस्थियाें की पाेटली जमा हाे चुकी हैं।

19 मृतकाें काे नहीं मिली पानीपत की पहचान : काेराेना से जान गंवाने वालाें में 15 ऐसे भी हैं, जिन्हें पानीपत की पहचान ही नहीं मिली। इनके पास मात्र आधार कार्ड मिले, जिनपर नाम व पता अन्य प्रदेशाें का मिला। इनमें 7 पश्चिम बंगाल, 5 बिहार व 3 महाराष्ट्र के मिले। कई मृतक हैं, जिनके पास स्थानीय नाम व पता नहीं हाेने से इन्हें बाहरी प्रदेशाें की पहचान के ऊपर ही निर्भर रहना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें