पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

खरखौदा शराब घोटाला:एसईटी ने 42 पेज की नोटिंग लिखी, 1396 पेज के दस्तावेज जोड़े, खामियां दूर करने के सुझाव दिए

राजधानी हरियाणा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो
  • खरखौदा शराब घोटाले में एसीएस होम ने शुरू किया रिपोर्ट का अध्ययन
  • सूत्रों की मानें तो जांच रिपोर्ट के बाद खरखौदा गोदाम से शराब गायब होने के लिए जिम्मदार अधिकारियों और कर्मचारियों पर गाज गिरना तय
Advertisement
Advertisement

शराब घोटाले की रिपोर्ट मिलने के बाद होम डिपार्टमेंट के अधिकारी उसके गहन अध्ययन में जुट गई है। जो रिपोर्ट सौंपी गई है, उसमें स्पेशल एंक्वारी टीम की अध्यक्षता कर रहे सीनियर आईएएस टीसी गुप्ता, डीजी क्राइम मोहम्मद अकील और एडिशनल एक्साइज एंड टेक्सेशन कमिश्नर विजय सिंह ने 42 पेज की नोटिंग लिखकर दी है। जिसमें पूरा विश्लेषण किया गया है। जबकि 1396 पेज तीन भागों में दिए गए हैं। जिसमें पुलिस, एक्साइज विभागों के साथ एक पार्ट में अलग दस्तावेज दिए गए हैं।

अब एसीएस होम विजय वर्धन एक-एक पन्ने का अध्ययन कर रहे हैं। उन्हें पांच दिन में इसकी ब्रिफिंग होम मिनिस्टर अनिल विज को देनी है। सूत्रों का कहना है कि इसके बाद जहां खामियां मिली हैं, उसे दुरुस्त करने के लिए सरकार से सिफारिश की जा सकती है। ताकि भविष्य में सिस्टम और विभागों की खामियों का कोई अधिकारी-कर्मचारी और शराब तस्कर फायदा न उठा सके। टीम ने दस सुझाव भी दिए हैं। जिससे खामियों को दूर किया जा सकता है।

इधर, सूत्रों की मानें तो इस जांच रिपोर्ट के बाद खरखौदा गोदाम से शराब गायब होने के लिए जिम्मदार अधिकारियों और कर्मचारियों पर गाज गिरना तय है। क्योंकि एसईटी ने इसके लिए दोनों ही महकमों को जिम्मेदार माना है।

ये भी जानिए...
एसईटी की ओर से जो भागों में दस्तावेज सौंपे गए हैं। उसके पहले भाग में पेज 1 से लेकर 593 तक तक शामिल हैं। जबकि दूसरे में पेज नंबर-594 से शुरू 1187 और तीसरे भाग में 1188 से 1396 तक पेज हैं।

मैंने रिपोर्ट का अध्ययन करने के लिए एसीएस होम से कहा है। इसलिए वहां से पूरी जानकारी के आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। पांच दिन बाद रिपोर्ट मिल जाएगी। -अनिल विज, गृह मंत्री

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement