353 दिन बाद टोल शुरू हुए:फास्टैग पर जम गई थी मिट्‌टी, मशीन से चेक करने में टोल पर लगा लंबा जाम

पानीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टाेल पर मशीन से टैक्स काटता कर्मी। - Dainik Bhaskar
टाेल पर मशीन से टैक्स काटता कर्मी।
  • एक साल से बंद होने के कारण अधिकांश फास्टैग में बैलेंस नहीं थे, ऐसे लोगों से डबल वसूली हुई

353 दिन बाद साेमवार को जीटी रोड पर टोल-प्लाजा शुरू हो गया। दोपहर 12:30 बजे टोल कर्मचारियों ने बूम बैरियर गिराने शुरू किए तो जीटी रोड से सफर कर रहे लोग चौंक गए। फास्टैग पर मिट्‌टी जम गई थी, जिस कारण टोलकर्मियों को मैनुअल मशीन से एक-एक कर वाहनों को चेक करना पड़ा। जिससे शाम 5 बजते-बजते टोल पर दोनों ओर लंबा जाम लग गया। जो रात 10 बजे तक नियंत्रण में आया।

जाम में फंसे लोग टोल कंपनी को कोसने लगे। कई तो ऐसे भी थे जो टोलकर्मियों से झगड़े पर उतारू हो गए। वाहन चालकों ने तो यह कहना शुरू कर दिया कि कहा तो यह जा रहा था कि 15 दिसंबर तक किसान वापस लौटेंगे, इसके बाद टोल शुरू होगा। लेकिन यहां तो तीन दिन पहले ही वसूली शुरू हो गई। 25 दिसंबर 2020 को किसान पानीपत से दिल्ली गए थे। उसी दिन से टोल बंद पड़ा था।

लोग बोले- सरकार का टोल कंपनी पर कोई नियंत्रण नहीं

जाम में फंसे लोगों ने टोल प्रबंधन को कोसा। लोगों ने कहा कि इन टोल कंपनियों पर सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है। बहादुरगढ़ के योगेंद्र चंडीगढ़ की ओर से आ रहे थे। आधा घंटा जाम में फंसे रहे। बहादुरगढ़ जा रहे जोगेंद्र ने कहा कि टोल कंपनी को दो दिन पहले ही घोषणा करके बतानी चाहिए थी कि कब से टोल लिया जाएगा, ताकि लोग फा-स्टैग में बैलेंस डलवा लेते।

पास की सुविधा का नहीं मिला लाभ

शहर वासियों को टोल से रियायत मिलती है। कार के लिए पास पर उन्हें 15 रुपए देने पड़ते हैं। बाहर के लोगों से कार के 35 रुपए लिए जाते हैं। चूंकि एक साल से टोल बंद था और एक साल के लिए ही टोल कंपनी पास जारी करती है। इसलिए, शहरवासियों को छूट का लाभ लेने के लिए अब पास बनाना होगा। शहर में 5000 से अधिक लोगों ने पास ले रखा था। सोमवार को जाम में सेक्टर-12 के कुलदीप भी फंस गए। कुलदीप ने कहा कि यहां कोई व्यवस्था नहीं है, पहले ही दिन जाम में फंस गए।

सेक्टर-13/17 व 18 वासियों की नींद खराब होगी

टोल बचाने के लिए लोग अब सेक्टर-13/17 व सेक्टर-18 रूट का उपयोग करेंगे। इसलिए, अब सेक्टरवासियों की नींद खराब होगी। टोल कंपनी कई बार यह रास्ता रोक भी चुकी है।

इधर, डाहर टोल टैक्स पर वसूली के रेट में इजाफा

इसराना. रोहतक हाईवे पर डाहर में बने टोल पर भी तैयारी पूरी हो चुकी है। आज टोल शुरू हो सकता है। सद‌्भाव कंपनी ने एनएचएआई को टोल का प्रबंधन सौंप दिया है। एनएचएआई के कर्मचारी ही टोल वसूली करेंगे। डाहर टोल पर टैक्स 5 रुपए बढ़ा दिया गया है। पहले कार के लिए 95 रुपए था, जो बढ़ाकर 100 रुपए कर दिया गया है। हल्के व्यवसायिक वाहनों के लिए पहले अब 215 रुपए देने पड़ेंगे।

खबरें और भी हैं...