पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानीपत में युवक की मौत:छत पर टंकी में पानी देखने गया था युवक, पास से गुजर रही 11KV लाइन की चपेट में आकर दर्दनाक मौत

पानीपत10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विशेष का फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
विशेष का फाइल फोटो।
  • सेक्टर-29 थाना क्षेत्र के गांव डडौला का मामला
  • परिजन कई बार छत को छूती लाइन ठीक करने की लगा चुके थे गुहार

गांव डडौला में मंगलवार को छत पर रखी टंकी में पानी देखने गया 19 साल का युवक पास से गुजर रही 11KV की बिजली लाइन की चपेट में आ गया। 11 हजार के वोल्ट ने युवक को चींखने तक का मौका नहीं दिया। पड़ोसी ने युवक को छत पर बेसुध देखकर परिजनों को बताया। बड़ा भाई छत पर पहुंचा तो वह मर चुका था। परिजन का आरोप है कि वह स्थानीय बिजलीघर से लेकर CM विंडो तक बिजली लाइन को ठीक कराने की गुहार लगा चुके हैं, लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी।

सिविल अस्पताल पहुंचे विशेष के परिजन।
सिविल अस्पताल पहुंचे विशेष के परिजन।

डडौला गांव के मोनू ने बताया कि उनके पिता शीशपाल ऑटो ड्राइवर हैं। मंगलवार सुबह को उसका छोटा भाई 19 साल के विशेष छत पर रखी टंकी में पानी देखने गया था। तभी वह छत से करीब तीन फिट दूरी से गुजर रही 11KV की बिजली लाइन की चपेट में आ गया। करंट इतना तेज था कि उसके भाई को मदद मांगने का भी मौका नहीं मिला। कुछ देर बाद पड़ोसी महेंद्र अपनी छत पर गया तो उसका भाई बेसुध पड़ा था। पहले पड़ोसी ने विशेष को आवाज लगाई, उसके न बाेलने पर पड़ोसी ने हमें बताया। जब वह ऊपर पहुंचा तो भाई मर चुका था।

बिजलीघर से लेकर CM विंडो तक लगाई गुहार
मोनू ने बताया कि काफी समय से बिजली लाइन उनके छत के पास से गुजर रही है। अब तार और नीचे आ चुके हैं। हादसे से बचने के लिए वह सरपंच के लेटरपैड पर लिखकर भी स्थानीय छाजपुर बिजलीघर में शिकायत कर चुके हैं। समाधान न होने के बाद उनकी माता राजाबाला ने जनवरी 2021 में CM विंडो पर शिकायत की, लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। अब बिजली निगम की लापरवाही का खामियाजा उसके भाई ने जान देकर भुगता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

और पढ़ें