पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • There Are 4 Thousand More Elements In The Smoke Of Smoking, Many Elements Are Toxic To The Nerves Of Our Eyes, Can Also Cause Cataract: Dr. Gupta

विश्व नाे तंबाकू डे आज:धूम्रपान के धुंए में 4 हजार अधिक तत्व, कई तत्व हमारी आंख की नसों के लिए जहरीले, मोतियाबिंद भी हो सकता है :डाॅ. गुप्ता

पानीपत25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पानीपत. आई स्पेशलिस्ट डाॅ. कानव गुप्ता। - Dainik Bhaskar
पानीपत. आई स्पेशलिस्ट डाॅ. कानव गुप्ता।
  • इस वर्ष की थीम ‘छोड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं’ के तहत लाेगाें काे किया जाएगा जागरूक

आज नो टोबैको डे यानी विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जा रहा है। इस दिन लोगों को तंबाकू सेवन से होने वाले नुकसानों के बारे में जागरूक किया जाता है। इस वर्ष की थीम ‘छोड़ने के लिए प्रतिबद्ध’ हैं। ये अभियान लोगों को स्वस्थ जीवन के लिए तंबाकू छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करता है।

पिछले साल की तरह, इस साल भी, चल रही काेविड-19 महामारी की वजह से कोई सार्वजनिक अभियान नहीं होगा। धूम्रपान के धुंए में 4 हजार अधिक तत्व होते हैं, जिनमे से अधिकतर हमारे सरीर के लिए हानिकारक होते है। इनमें से काफी तत्व ऐसे होते है जो हमारी आंख व आंख की नसों के लिए जहरीले होते है।

आई स्पेशलिस्ट डाॅ. कानव गुप्ता ने बताया कि धूम्रपान की बजह से तंबाकू में मौजूद निकोटिन से रेटिना और आंख की नसों पर घातक प्रभाव डालता है। इसके अतिरिक्त धूम्रपान आंखों की सतह पर नमी बनाए रखने वाले तत्वों को क्षतिग्रस्त कर सकता है। जिससे आखों की नमी और गीलापन खत्म हो जाता है और नजर में धुंधलापन आने की संभावना होती है।

धूम्रपान से मोतियाबिंद भी हो सकता है। अगर कोई थायराइड का मरीज धूम्रपान करता है तो उसमे ग्रेव्स ऑप्थलमोपथी होने का खतरा बढ़ जाता है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार आंकड़े : 2020-21 में 50 से ज्यादा मुख कैंसर राेगी मिले

  • 2020-21 में 50 से ज्यादा मुख कैंसर राेगी मिले
  • 22 पुरुष मुंह के कैंसर राेगी मिले
  • 43 महिलाएं मुंह के कैंसर से ग्रस्त मिली
  • औसतन 17 साल की आयु में लग रही तंबाकू की लत
  • सिविल अस्पताल में आम समय में राेजाना औसत 40 मरीज इलाज पहुंचते थे।
  • सभी सीएचसी काे भी मिलाया जाए ताे करीब 200 मरीज परामर्श के लिए पहुंचते थे।
  • पिछले एक साल में सार्वजनिक जगहाें पर बीड़ी, सिगरेट पीने वालाें के 17 हजार के चालान काटे।
  • 5 हजार जागरूकता पंपलेट्स बांटे।
  • पिछले एक साल में 162 लाेगाें ने तंबाकू छाेड़ा

तंबाकू सेवन से हाेती है मुख्य बीमारियां : डिप्टी सीएमओ डाॅ. कर्मबीर चाेपड़ा

डिप्टी सीएमओ डाॅ. कर्मबीर चाेपड़ा ने बताया कि तंबाकू से मुख्य रूप से मुख व फेफड़ाें के अलावा पेट का कैंसर, मसूडाें में संक्रमण, दांताें में समस्या, आंताें का कैंसर, तनाव, उच्च रक्तचाप, आवाज खराब हाेना, प्रजन्न शक्ति कमजाेर, गर्भस्थ शिशु विकृत पैदा हाे सकता है। पिछले एक साल में 162 लाेगाें ने तंबाकू छाेड़ा है। अब बहुत से लाेग तंबाकू छाेड़ने के लिए आगे आ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...