पानीपत में जीजा का दोस्त बनकर ठगी:गूगल-पे करने का झांसा दे व्यापारी के अकाउंट से उड़ा दिए 25 हजार 300

पानीपत8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ओल्ड इंडस्ट्रियल थाना पुलिस न - Dainik Bhaskar
ओल्ड इंडस्ट्रियल थाना पुलिस न
  • ठग ने विश्वास दिलाने के लिए पहले QR कोड भेज अकाउंट में डला दिए 5 रुपए, इसके बाद दूसरे QR कोड से उड़ाई रकम

गुप्ता जी कैसे हो...घर में सब ठीक हैं ना? मैं चंडीगढ़ से बोल रहा हूं, अरुण गर्ग का दोस्त। गुप्ता जी मुझे अपने एक परिचित से 25 हजार रुपए लेने हैं। मेरा गूगल-पे नहीं चल रहा है। आप अपने अकाउंट में गूगल-पे करा लो, मैं आपसे बाद में ले लूंगा। ठग ने पहले QR कोड भेज पीड़ित के अकाउंट में 5 रुपए डलवा दिए। फिर दूसरा QR कोड भेज 25 हजार डलवाने का झांसा दिया, लेकिन जैसे ही पीड़ित ने QR कोड एड किया तो उनके अकाउंट से 25 हजार 300 रुपए कट गए। ओल्ड इंडस्ट्रियल थाना पुलिस ने ठग के खिलाफ केस दर्ज किया है।

काबड़ी रोड स्थित न्यूराम पुरा कॉलोनी के देवराज गुप्ता ने बताया कि वह तंबाकू व्यापारी हैं। चंडीगढ़ में उनके जीजा अरुण गर्ग रहते हैं। गुरुवार को उनके पास एक कॉल आई। कॉल करने वाले ने खुद को उनके जीजा का दोस्त शर्मा बताया।

कहा कि उन्हें अपने एक परिचित से 25 हजार रुपए लेने है, लेकिन उनका गूगल-पे नही चल रहा है। ठग ने पीड़ित के अकाउंट में 25 हजार रुपए डालने और बाद में वापस लेने की बात कही। रुपए लेने की बात सुनकर उन्होंने हा कर दी। ठग द्वारा पहले भेजे गए QR कोड को एड करने पर उनके अकाउंट में 5 रुपए आए। इसके बाद ठग ने 25 हजार का QR कोड भेजा। इस कोड को एड किया तो उनके अकाउंट में रुपए आने के बजाय कट गए।

दूसरा गूगल-पे नंबर दे दो, उसमें डलवा देंगे
व्यापारी को ठगने के बाद भी ठग नहीं रुके। जब देवराज गुप्ता ने ठग शर्मा को कॉल की तो वह बोला कि कोई दूसरा गूगल-पे नंबर दे दो, रुपए उसमें डलवा देंगे। पीड़त ने मना किया तो ठग ने इस नंबर पर दोबारा कॉल न करने की धमकी दी।