पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी का मामला:ट्रीमर वापस करने के लिए गूगल से नंबर ले की कॉल, टीचर से 83 हजार ठगे

पानीपत20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अमेजन की जगह ठगाें का नंबर मिला, रिफंड के लिए भरवाई बैंक की डिटेल

गेस्ट टीचर को ई-कॉमर्स वेबसाइट के कस्टमर केयर का नंबर गूगल से निकालना भारी पड़ गया। कंपनी का तो नंबर मिला नहीं, लेकिन ठगों का नंबर लग गया और उनसे 83 हजार रुपए ठग लिए। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। सिवाह के राकेश गेस्ट टीचर हैं। उन्होंने बताया कि उनके बेटे ने शाॅपिंग ई-कॉमर्स कंपनी के एप से 1399 रुपए में ट्रीमर खरीदा था, लेकिन वह पसंद नहीं आया।

रिफंड के लिए गूगल से कंपनी का नंबर लेकर काॅल किया। उन्हें नहीं पता था कि वह नंबर ठग का था। फाेन उठाते ही ठग बाेले कि अमेजन से बाेल रहे हैं। बेटे ने ट्रीमर रिफंड करने के लिए कहा तो कॉलर बोला- हां रिफंड हाे जाएगा। उन्हाेंने एक लिंक भेजा और फार्म में बैंक खाते की डिटेल भरने के लिए कहा। बेटे ने खाते की डिटेल भर दी। कुछ देर बाद ही उनके खाते से दाे बार में 83 हजार रुपए कट गए।

संबंधित कंपनी की वेबसाइट से लें नंबर : यदि आपको किसी बैंक, ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी, मॉल आदि से संपर्क करने के लिए नंबर लेना है तो सीधे उस कंपनी की वेबसाइट सर्च करें। सभी कंपनी की वेबसाइट पर ‘कॉन्टेक्ट अस’ के नाम से ऑप्शन होता है। इसके अलावा वेबसाइट पर हेल्प लाइन नंबर भी दिए होते हैं। ठगी से बचने के लिए केवल इन्हीं नंबरों पर कॉल करके अपनी समस्या का समाधान कराएं। सबसे जरूरी है कि अपने खाते, डेबिट व क्रेडिट कार्ड की जानकारी किसी से शेयर न करें।

साइबर ठग ने 2 अलग-अलग खातों से निकाले 1.22 लाख रुपए

मतलौडा क्षेत्र के दो अलग-अलग व्यक्तियों के खाते से ठग ने करीब 1.22 लाख रुपए निकाल लिए। पीड़ित अनिल निवासी नैन ने बताया कि 18 मई को उसके खाते से 10000 रुपए किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा निकाले गए। जबकि उसका डेबिट कार्ड उसके पास ही था। दूसरी शिकायत गांव आदियाना निवासी संदीप ने दी। उसने बताया कि 25 से 28 मई के बीच उसके खाते से साइबर ठग ने एक लाख 12500 रुपए निकाल लिए। जबकि डेबिट कार्ड भी उसी के पास था। पुलिस ने बताया कि दाेनाें मामलाें में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...