नमक हराम नौकरों ने किया विश्वासघात:पानीपत में शराब ठेकेदार को खाने में नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश किया, 5 लाख की नकदी और पिस्टल लूटी

पानीपत4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पानीपत जिले में 2 नौकरों ने मालिक के साथ बड़ा विश्वासघात किया है। नौकरों ने शराब ठेकेदार मालिक को खाने में नशीला पदार्थ खिलाया, जिससे वह बेहोश हो गया। मालिक के बेहोश हो जाने पर दोनों चोर अलमारी का लॉक तोड़कर उसमें रखी लाखों की नकदी, पिस्तौल व कारतूस चुरा कर फरार हो गए।

उनकी वारदात के बारे में किसी को पता न लगे, इसके लिए वे एलसीडी को तोड़कर पानीपत में डुबोकर फरार हो गए। बेहोशी टूटने पर मालिक उठा तो उसे वारदात का पता लगा, जिसकी सूचना उसने पुलिस को दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ लूट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज करके मामले की आगामी कार्रवाई व आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

एलसीडी तोड़कर पानी में डुबो गए चोर।
एलसीडी तोड़कर पानी में डुबो गए चोर।

9 माह से लगा नौकर अपने भाई को एक दिन के छोड़ गया ऑफिस

सेक्टर 13-17 थाना पुलिस को दी शिकायत में सुरेंद्र सिंह ने बताया कि वह गांव खलीला का रहने वाला है। उसका पानीपत शहर में शराब ठेका है, जिसकी कैश कलेक्शन के लिए उसने सेक्टर 13-17 के एक मकान में अपना ऑफिस बनाया हुआ है। वह पर उसने करीब 9 माह से पदम बहादुर निवासी नेपाल को बतौर रसोइया रखा हुआ था। 12 जनवरी को पदम बहादुर अपने दो जानकार को लेकर ऑफिस आया। इन जानकारों में पदम का सगा भाई डौम बहादुर भी था। पदम ने दोनों को अपनी जगह पर काम करने के लिए ऑफिस में रखा।

पदम खुद एक दिन की छुट्‌टी लेकर चला गया था। डौम और उसके साथी ने ऑफिस में बैठे सुरेंद्र के पार्टनर सुरेश को खाने में नशीला पदार्थ खिला दिया, जिससे उसे नशा हो गया। नशा होने के बाद वह बेहोश हो गया। इसके बाद डौम व उसका साथी ऑफिस के एक कमरे के लॉकर में रखी हुई शराब ठेके की करीब 5 लाख 13 हजार 200 रुपए की कलेक्शन, दामाद अजीत निवासी गांव थिराना की लाइसेंसी पिस्टल, 2 कारतूस व 10 रौंद 32 बोर के चुराकर फरार हो गए।

दो एलसीडी तोड़कर पानी में डुबोई

सुरेंद्र का कहना है कि इस साजिश में उसके नौकर पदम बहादुर की भी मिलीभगत है। आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद ऑफिस में लगी दोनों एलसीडी टीवी स्क्रीन को तोड़कर बाथरूम में एक बाल्टी में पानी में डुबो कर फरार हो गए। बाल्टी में टूटी हुई एलसीडी को डुबोने के बाद आरोपियों ने उसमें नल भी चला दिया। आरोपी ऑफिस का सारा सामान भी बिखेर गए। रसोई में खाना भी खुला ही छोड़ा हुआ था।