वेस्ट बंगाल के श्रमिक की पानीपत में मौत:सड़क हादसे में घायल श्रमिक ने 11 दिन बाद इलाज के दौरान तोड़ा दम, चार महीने की गर्भवती है पत्नी

पानीपतएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
केसर का फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
केसर का फाइल फोटो।
  • बीते 20 साल से पानीपत में रह रहा है वेस्ट बंगाल का परिवार, अज्ञात वाहन ने मारी थी टक्कर

सेक्टर-25 में हादसे में घायल श्रमिक की 11 दिन बाद मंगलवार रात को इलाज के दौरान मौत हो गई। वेस्ट बंगाल निवासी श्रमिक का परिवार बीते 20 साल से पानीपत में रहा रहा है। श्रमिक की सात महीने पहले शादी हुई थी और उसकी पत्नी चार महीने की गर्भवती है। सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद श्रमिक का शव परिजनों को सौंप दिया गया।

मूलरूप से वेस्ट बंगाल निवासी 25 वर्षीय कैशर अपनी मां, भाई कयूम और पत्नी नाजिमा के साथ सेक्टर-29 में रहता था। वह अपनी मां और भाई के साथ शिवनगर स्थित अन्नापूर्णा फैक्ट्री में काम करता था। 27 फरवरी को ड्यूटी के बाद केसर घर वापस लौट रहा था।

सेक्टर-25 में ऑटो से उतरकर पैदल घर की ओर चला तो पीछे से आये अज्ञात वाहन ने उसे टक्कर मार दी। वाहन चालक मौके से भाग गया। आसपास के लोगों ने उसके परिजनों को सूचना दी।

दोस्त फारुख ने बताया कि कैशर को पहले सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से उसे रोहतक PGI रेफर कर दिया गया। तीन दिन पहले ही कैशर में रोहतक से पानीपत के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां, मंगलवार रात को उसकी मौत हो गई।

चार महीने की गर्भवती है पत्नी
फारुख ने बताया कि कैशर का सात महीने पहले नाजिमा से निकाह हुआ था। अब नाजिमा चार महीने की गर्भवती है। शादी के बाद से खुश परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है।