पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दिनदहाड़े दो लूट:टेंपो चालक पर धारदार हथियार से हमला कर 28000, कलेक्शन एजेंट से 34800 रु. लूटे

सफीदों16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सफीदों. हमले में बुरी तरह से घायल टेंपों चालक रोशन। - Dainik Bhaskar
सफीदों. हमले में बुरी तरह से घायल टेंपों चालक रोशन।
  • लुटेरों का खौफ जुलाई के सात दिनों में लूट की तीसरी बड़ी वारदात, ट्रेस एक भी नहीं

नगर के हाट रोड स्थित गांव रत्ताखेड़ा मोड़ के पास 2 बाइक सवार युवकों ने एक टेंपो चालक पर तेजधार हथियार से हमला करके 28 हजार रुपए की नकदी छीन ली। वारदात को अंजाम देकर बाइक सवार युवक मौके से फरार हो गए। टेंपो चालक जींद से सफीदों उपमंडल के गांव बहादुरपुर स्थित एक हैचरी से अंडे लेने के लिए आ रहा था। मामले की सूचना सफीदों पुलिस को दी गई। सूचना पाकर सदर थाना प्रभारी संजय कुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया।

बुधवार दोपहर भिवानी रोड जींद निवासी रोशन गांव बहादुरपुर स्थित एक हैचरी से अंडे लेने के लिए जा रहा था। गांव रत्ताखेड़ा मोड़ के पास बाइक सवार 2 युवकों ने अपनी बाइक टेंपो के आगे अड़ा दी। युवकों ने धारदार हथियार से उसकी बाजू पर वार करके उससे 28 हजार रुपए की नकदी व उसका मोबाइल फोन छीनकर मौके से फरार हो गए।

जाते-जाते युवक गाड़ी की चाबी भी छीनकर ले गए। मामले की सूचना पाकर सदर थाना प्रभारी संजय कुमार मौके पर पहुंचे और मौके पर जमा हुए लोगों से घटनाक्रम की जानकारी हासिल की। बुरी तरह से लहूलुहान रोशन को सफीदों के नागरिक अस्पताल में लाया गया, जहां से डॉक्टरों ने उसे प्राथमिक उपचार देकर पीजीआई रेफर कर दिया। रोशन की बाजू में गंभीर चोटें आई बताई गई है। पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही थी।

पुलिस के लिए मास्क बन रहा सिरदर्द, आरोपियों को पकड़ने में आ रही परेशानी

पिछले तीन माह में 10 से ज्यादा लूट व छीना छपटी की वारदात हो चुकी है। जुलाई में लूट की यह तीसरी बड़ी वारदात है। इससे पहले एक जुलाई को भी नरवाना के उझाना-पीपलथा लिंक मार्ग के पास फाइनेंस कंपनी के कर्मचारियों से एक लाख 50 हजार रुपए लूटे गए थे।

आज फिर फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी को निशाना बनाकर उससे 34 हजार 800 रुपए की लूट की गई है। जून माह में भी तीन लूट की वारदात हुई थी। पुलिस का मानना है कि लूट की वारदात के दौरान अब आरोपी मास्क पहनते हैं, जिसके चलते उनको पहचानने में ज्यादा दिक्कत होती है। आजकल कोरोना के चलते अधिकतर लोग मास्क पहन रहे हैं। इसका फायदा उठाकर आरोपी भी मास्क पहनकर आते हैं, जिसके चलते उनकी पहचान मुश्किल हो रही है।

जिले में अप्रैल से अब तक हुई लूट की वारदात

  • 16 अप्रैल को गोहाना रोड पर पेंट व्यापारी से 35 हजार रुपए लूटे।
  • 21 अप्रैल को गोसाई खेड़ा गांव में गाड़ी सवार से गाड़ी सवारों ने कट्टे के बल पर रुपए व गाड़ी छीन ली।
  • 28 मई को कार सवारों ने रास्ता पूछने के बहाने बड़ाैदा गांव के पास बाइक सवार से 35 हजार रुपए लूटे।
  • 1 जून को सफीदों वार्ड नंबर-17 निवासी 76 वर्षीय धर्म सिंह को नशीला पदार्थ पिला एक लाख लूटे।
  • 5 जून की रात को हैबतपुर निवासी पंप संचालक अनिल से युवकों ने 2 लाख 91 हजार 685 रुपए लूटे।
  • 25 जून को सफीदों वार्ड 6 में बुजुर्ग से बाइक सवारोंं ने 50 हजार रु. छीने।
  • 1 जुलाई काे उझाना-पीपलथा लिंक मार्ग पर फाइनेंस कंपनी के मैनेजर कर्मचारी से तीन बदमाश 1 लाख 50 हजार रुपए लूटकर फरार हो गए।

कई मामले ट्रेस किए गए हैं : एसपी

आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस प्रयासरत है। कई मामले ट्रेस किए गए हैं। अपराधियों को पकड़ने में मास्क बाधा बन रहा है। पहले मुंह ढककर आने पर आरोपी की पहचान होती थी, अब कोई भी मास्क डालकर मुंह ढक लेता है। इसका अपराधी फायदा उठा रहे हैं। वसीम अकरम, एसपी, जींद।

खबरें और भी हैं...