सुसाइड केस उलझी गुत्थी:प्राइवेट स्कूल संचालक और उसके दो बेटों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज

सफीदोंएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • व्यक्ति ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट छोड़ा

कस्बे के वार्ड 8 में एक व्यक्ति ने संदिग्ध हालात में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक मरने से पहले लिखे सुसाइड नोट में पवन ने अपनी आत्महत्या के लिए मा. बलबीर व उसके परिवार को जिम्मेदार ठहराया है। मृतक की पत्नी रेशमा ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उसके पति पवन ने पिछले 15 साल से शटरिंग की दुकान की हुई थी। यह दुकान उसके ससुर द्वारा उसके बंटवारे में उसे दी गई थी। आरोप लगाया कि रामपुरा रोड निवासी निजी स्कूल संचालक मा. बलबीर व उसके बेटे दीपक, राजेश उसके पति पर दुकान खाली करने के लिए दबाव बना रहे थे। जिसके चलते तीनों से परेशान होकर उसके पति ने 3 नवंबर शाम को फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। मामले के जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर सतीश कुमार ने कहा कि सुसाइड नोट व मृतक की पत्नी के बयान में पर आरोपी मा. बलबीर व उसके बेटे दीपक, राजेश के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...