पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

गाेवंश की मजबूरी:नारायणा में बनी गाेशाला में शेड न होने के कारण कीचड़ में बैठने को मजबूर है गाेवंश

समालखा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समालखा. गोशाला में पड़े गोबर और कीचड़ में गोवंश।
  • गोवंश की व्यवस्था को लेकर 10 गांव के लोगों ने किया विचार

नारायणा गांव दो एकड़ में 2016 में 10 गांव के लोगों द्वारा श्री नवनाथ गोवंश बनाई गई थी। जानकारी देते हुए नवनियुक्त प्रधान बिजेंद्र छौक्कर नारायणा ने बताया सोमवार को गोवंश की खस्ता हालात को देखते हुए 10 गावों के लोगों की एक मीटिंग का आयोजन किया गया। मीटिंग में गोवंश की खस्ता हालात को लेकर चर्चा की गई। छौक्कर ने मीटिंग के दौरान बताया 2016 में श्री नवनाथ गोवंश बनवाई गई थी। जिसमे अब करीब 400 गोवंश हैं। गोवंशों के लिए बैठने, खाने, रहने और नहाने की व्यवस्था ठीक नहीं है। गोशाला में शेड न होने के कारण गोवंशों को दिनभर धूप में भी कीचड़ पर बैठने को मजबूर है।

छौक्कर ने बताया गोवंशों का चारा रखने की व्यवस्था के लिए भी कोई उचित स्थान नहीं है। बारिश में यहां लाखों रुपए की कीमत का चारा भीग कर बर्बाद हो गया है।उन्होंने ने कहा हरियाणा सरकार की ओर से गोवंशों के लिए कोई भी विशेष सहयोग नहीं दिया जा रहा। जिसके चलते यहां गोवंशों की दुर्दशा हो रही है। गांव वासी अपने बलबूते पर मेहनत करके ही यहां गोवंशों के लिए कुछ व्यवस्था बनाते हैं।

बिजेंद्र छौक्कर ने लोगों से अपील की है कि गोशाला में बढ़ चढ़ कर योगदान दे जिससे गोवंशों की देख भाल सही ढंग से हो सके। इस मौके पर उपप्रधान महाबीर शर्मा, जयभगवान शर्मा, मास्टर ओमप्रकाश, नरेश ढोडपुर, बिना नारायणा, रामकुमार नंबरदार, चरण सिंह किवाना, ताराचंद बाल्मीकि, सेठपाल, नरेश ढोडपुर, राजू बुड़शाम, कर्णसिंह व गांव वासिरामकुमार नंबरदार आदि मौजूद रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें