आपत्तियों और सुझावों को लेकर मीटिंग:प्रशासक पर सामूहिक तौर पर आपत्तियां नहीं लेने का आरोप

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धानक धर्मशाला एवं मंदिर बगीची के प्रस्तावित चुनाव को लेकर प्रशासक की तरफ से बुलाई आपत्तियों और सुझावों को लेकर मीटिंग में समाज के कुछ लोगों ने सामूहिक आपत्तियां नहीं लेने का आरोप लगाया है। इस बाबत समाज के लोगों की तरफ से जिला रजिस्ट्रार से भी मिलने का निर्णय लिया है।

शिकायत में नीरज मोरवाल, अशोक कुमार सहित अन्य की तरफ से कहा गया है कि रविवार को हुई मीटिंग में उनकी तरफ से सामूहिक आपत्तियां दी गई थी। इस पर प्रशासक की तरफ से शिकायतकर्ता के व्यक्तिश:अपने सामने हस्ताक्षर की शर्त लगाते हुए उनका पत्र नहीं लिया । जबकि उनकी तरफ से ही सुझाव एवं आपत्तियां लिखित में देनी की बात कही थी। काफी बहस के बाद ही उन्होंने यह पत्र लिया।

इसको लेकर समाज के लोगों ने जिला रजिस्ट्रार से मिलने का निर्णय लिया है। वहीं प्रशासक सतबीर सिंह यादव ने कहा है कि आपत्तियां एवं सुझाव के लिए ही मीटिंग बुलाई थी। जबकि कुछ लोगों की तरफ से मोहल्ला में जाकर महिलाओं के हस्ताक्षर कराकर आपत्तियां दी गई थी। कई उनमें वोटर भी नहीं है। इसी वजह से मीटिंग मौजूद लोगों से ही व्यक्तिश: तौर पर आपत्तियां देने को कहा गया था।

खबरें और भी हैं...