रेवाड़ी पहुंचे केन्द्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव:अग्निपथ पर बोले- योजना सेना की औसत आयु को घटाकर 25-26 करने में कारगर साबित होगी

रेवाड़ी5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बावल में बन रहे ईएसआई के अस्पताल का निरीक्षण करते हुए श्रम मंत्री भूपेन्द्र यादव। - Dainik Bhaskar
बावल में बन रहे ईएसआई के अस्पताल का निरीक्षण करते हुए श्रम मंत्री भूपेन्द्र यादव।

केन्द्रीय श्रम एवं पर्यावरण मंत्री भूपेन्द्र यादव सोमवार को रेवाड़ी के मीरपुर स्थित कैंसर इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस में रेडिएशन सेंटर का उद्घाटन करने पहुंचे। इसके साथ ही 23वें वार्षिक उत्सव को भी संबोधित किया। इसके बाद केन्द्रीय मंत्री बावल में बन रहे ईएसआई के 100 बेड के अस्पताल का निरीक्षण करने भी पहुंचे।

इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए अग्निपथ को लेकर भूपेन्द्र यादव ने कहा कि यह स्कीम भारतीय सेना के लिए मील का पत्थर साबित होगी। तीर-तलवारों के युद्ध में बड़ी संख्या में सैनिकों की जरूरत होती है। आधुनिक युद्ध के दौर में विश्व में स्मार्ट सैनिकों की जरूरत है, जो तकनीक में पारंगत हों, अधिक संख्या की जरूरत नहीं।

भूपेन्द्र यादव ने कहा कि अब सैनिक नहीं, बल्कि मिसाइल, लेजर और फाइटर विमान युद्ध लड़ते हैं। उसके लिए सैनिकों को अत्याधुनिक हथियारों से लैस करके उन्हें प्रशिक्षण देकर तैयार करने की जरूरत है। भारतीय सेना की औसत आयु को घटाकर 25 से 26 वर्ष करने में यह स्कीम कारगर साबित होगी।

केन्द्र सरकार ने तीनों सेनाओं के प्रमुख अधिकारियों से सलाह-मशविरा करके यह योजना बनाई हैं। उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के राष्ट्र भक्त युवाओं को विपक्ष की चाल का मोहरा बनने से बचना चाहिए।

वहीं इस मौके पर कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाना आज की जरूरत बन गया था। 1 जुलाई से देशभर में सिंगल यूज प्लास्टिक बैन रहेगा। उनके साथ हरको बैंक के चेयरमैन डॉ. अरविंद यादव व अन्य लोग मौजूद थे।