• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rewari
  • In The Separation Of Rama, Maharaj Dasaratha Gave Up His Life, Kevat Made Ram, Lakshmana And Sita Crossed The Ganges.

राम लीला मंचन:राम के वियोग में महाराज दशरथ ने त्यागे प्राण, केवट ने राम, लक्ष्मण व सीता को पार कराई गंगा

रेवाड़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

श्रीशिव रामलीला समिति नई अनाजमंडी द्वारा संचालित रामलीला के पांचवें दिन राजकुमार राम, लक्ष्मण व सीता के साथ वन के लिए राजमहल से “खुश रहो अयोध्या वासियों, हम तो वन को जा रहे, आदेश पिता का मान कर, प्रण को निभाने जा रहे’ गाने के साथ अयोध्या को अलविदा कह देते हैं। नगरवासी उनके साथ जाने की जिद करते हैं तो वे रात्रि में उन्हें सोता हुआ छोड़ कर गंगा किनारे पहुंच जाते हैं। जब राम केवट से गंगा पार कराने की बात कहते हैं तो केवट “मेरी छोटी सी है नाव, तेरे जादू भरे पांव’ कह कर मना कर देते हैं।

मगर बाद में उनके चरण धो कर उन्हें गंगा पार कराते हैं। जब राम जी उन्हें गंगा पार कराई में अंगूठी देते हैं तो केवट मना कर देता है व कहता है कि प्रभु आप लोगों को भव सागर से पार उतारते है और मैं गंगा पार कराता हूं, इसलिए हम दोनों भाई-भाई हैं, मैं आपसे उतराई नहीं लूंगा। इस दृश्य पर दर्शक भाव विभोर हो गए।

समिति के महासचिव दीपक मंगला ने बताया कि राजा दशरथ राम के वन जाने का दुख सहन नहीं कर पाते हैं व परलोक सिधार जाते हैं। अंतिम संस्कार के लिए भरत व शत्रुघ्न को बुलाया जाता है। जब भरत अयोध्या पहुंचते है तो प्रजा को मुरझाया देख गाते है कि “अयोध्या हो रही व्याकुल, प्रजा में रंज छाया है, न कोई मुख से बोले हैं, न कोई आंख खोले है, गजब क्या हो गया ऐसा न कोई मिलने आया है।’

ये कलाकार निभा रहे भूमिका
दशरथ की भूमिका कपिल चन्द शर्मा, रानी कैकई गिरीश गुप्ता, राम आशीष शर्मा, सीता- निशान्त सोनी, लक्ष्मण- नवीन लखेरा, कौशल्या- राजेश वर्मा, सुमित्रा- अशोक शर्मा, गुरु वशिष्ठ- दुष्यंत मुदगिल, सुमंत- गिरीश सिंगला ने निभाई। भरत- मुकेश चांवरिया, शत्रुघ्न- नरेंद्र रामपुरा, निषाद राज- विपिन अग्रवाल, केवट डॉ श्याम बिहारी, संजीव वशिष्ठ, अशोक मुदगिल ने निभाई। बिटुवा की भूमिका राजेश रामपुरा, पवन डाबला, राजे रामपुरा, हिमांशु सिंगला ने निभाई।

भील की भूमिका अनिल रामपुरा, नुकुल, मनीष सैनी व रक्षित ने निभाई। नगर सेठ बीडी अग्रवाल व नगरवासी में राजेश भैया, महेंद्र मिस्त्री, दलीप शास्त्री, उज्ज्वल, कमल आदि ने भूमिका निभाई। दीपक मंगला ने बताया कि समाजसेवी धनश्याम डाटा ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की। विशेष सहयोगी डॉ आत्मप्रकाश यादव विशेष रूप से मौजूद रहे।

मंच संचालन नगर पार्षद एडवोकेट भूपेंद्र गुप्ता ने किया। लीला को सफल बनाने में समिति के प्रधान अजय मित्तल, उपप्रधान राजेश अग्रवाल, हरकेश यादव, सुनील सोनी, मनोज गर्ग डहीना वाले, मेकअप आर्टिस्ट प्रोफेसर विजय शर्मा, अमित बलवाड़ी व प्रेस सचिव एडवोकेट नीतेश अग्रवाल ने सहयोग दिया।

खबरें और भी हैं...