• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rewari
  • Manga Bhawan Said For The College Running In The School, If There Is No Concrete Assurance In 10 Days, We Will Agitate

शिक्षा के लिए सड़क पर छात्र:स्कूल में चल रहे कॉलेज के लिए मांगा भवनबोले-10 दिन में ठोस आश्वासन नहीं तो आंदोलन करेंगे

रेवाड़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के भाड़ावास गेट स्थित राजकीय बाल वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में चल रहे राजकीय महाविद्यालय रेवाड़ी के विद्यार्थी अपने भवन की मांग को लेकर शनिवार को सड़क पर उतर आए। विद्यार्थियों ने कॉलेज से सचिवालय तक विरोध प्रदर्शन किया तथा इसके बाद सीटीएम के नाम राज्य सरकार को ज्ञापन भेजा। इस दौरान विद्यार्थियों ने सरकार के लिए डूब मरो के नारे भी लगाए। कहा कि शिक्षा का हक नहीं दे सकती तो फिर ऐसी सरकार किस काम की। प्रदर्शन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र नेताओं ने अगुआई की। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं शामिल हुए।

विद्यार्थियों की मुख्य मांगें; राजकीय महाविद्यालय रेवाड़ी नॉन फिजिबल जोन से बाहर किया जाए। महाविद्यालय को जल्द से जल्द भूमि अलॉट कराकर भवन निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जाए। जब तक महाविद्यालय भवन नहीं बनता तब तक सैनिक स्कूल को अपने भवन में शिफ्ट कर यहां कॉलेज की कक्षाएं लगाई जाएं।

लेटलतीफी की हद ; 7 साल में भी भवन नहीं बना, जमीन ‘नोट-फिजिबल’ बता दी
अभाविप के प्रांत खेल संयोजक योगेश भारद्वाज ने बताया कि राजकीय महाविद्यालय रेवाड़ी की घोषणा 2015 में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा की गई थी। आज 7 साल हो गए हैं, लेकिन कॉलेज का भवन निर्माण नहीं हुआ है। रेवाड़ी शहर में कोई भी को एजुकेशनल राजकीय महाविद्यालय नहीं है। अब भूमि की उपलब्धता न होने के कारण नॉन फिजिबल जोन में डाल दिया गया है तथा अब बंद होने की कगार पर है। इसका तात्पर्य है कि राजकीय महाविद्यालय रेवाड़ी भविष्य में चल भी सकता है या नहीं भी चल सकता ।

केएलपी इकाई अध्यक्ष विशाल यादव ने बताया राजकीय महाविद्यालय रेवाड़ी से हमारे क्षेत्र के होनहार युवाओं का भविष्य जुड़ा है, इसलिए रेवाड़ी में राजकीय महाविद्यालय रेवाड़ी का होना अति आवश्यक है। छात्रा सिमरन, संगीता व एकता ने कहा कि पहले भी ज्ञापन दे चुके हैं। परंतु अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए। यदि 10 दिन में कोई कार्यवाही नहीं की गई तो विद्यार्थी आंदोलन करेंगे।

विद्यार्थियों के अनुसार 456 बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। 5-6 कमरों में कैसे पढ़ाई हो सकती है। यहां साइंस विषय भी शुरू की जाए। इस मौके पर तरुण, साहिल ,हिमांशु, सोनू ,अंजलि, आरती हर्षा , नविता, एकता, मुस्कान, कुमकुम, मोनिका, खुशबू, काजल यादव, प्रीति ,धीरज, राकेश राठौर ,सुमित राठौर, कपिल अमरजीत, साहिल व अन्य मौजूद रहे ।

खबरें और भी हैं...