GT बेल्ट और दक्षिणी हरियाणा में बारिश:रेवाड़ी में 24 घंटे में 70MM वर्षा; सड़कें-मैदान पानी से लबालब; गाड़ियों के पहिए थमे

रेवाड़ी15 दिन पहले

हरियाणा में मानसून की विदाई से पहले एक बार फिर मौसम का मिजाज पूरी तरह बदल गया है। दो दिन से दक्षिणी हरियाणा और जीटी बेल्ट के जिलों में कहीं बूंदाबांदी तो कही जोरदार बारिश जारी है। सूबे में सबसे ज्यादा बारिश रेवाड़ी में दर्ज की गई है। गुरुवार सुबह से ही बारिश की झड़ी लगी हुई है। 24 घंटे के अंदर ही 70MM से ज्यादा बारिश हो चुकी है।

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्व विद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान के अनुसार, सितंबर के अंत तक हरियाणा में मानसून की वापसी संभव है। इसलिए तापमान में बढ़ोतरी और वातावरण में नमी की उपस्थिति के कारण गरज चमक के बादल बनेंगे। इससे कहीं बूंदाबांदी तो कहीं बारिश हो रही है। यह स्थित अगले दो दिन यानी 24 सितंबर तक बनी रहेगी। उत्तरी व पश्चिमी जिलों में भी बारिश होने की संभावना बनी हुई है।

रेवाड़ी शहर की ब्रास मार्केट में भरा पानी।
रेवाड़ी शहर की ब्रास मार्केट में भरा पानी।

मानसून की हो रही वापसी

इस समय बारिश होने का सबसे बड़ा कारण मानसून की वापसी है। अभी राजस्थान की तरफ से मानसून की वापसी हो रही है। इस कारण राजस्थान से लगते जिलों में ज्यादा बारिश हो रही है। वहीं पूरे हरियाणा में मानसून की वापसी सितंबर के अंत में होने की पूरी संभावना है। राजस्थान के साथ लगते हरियाणा के रेवाड़ी जिले में तो पिछले 3 दिन से अच्छी बारिश हो रही है।

सबसे ज्यादा रेवाड़ी में बारिश

प्रदेश में सबसे ज्यादा बारिश रेवाड़ी जिले में हुई है। मंगलवार को करीब 20 मिनट तक बारिश हुई थी। इसके बाद बुधवार को डेढ़ घंटे जोरदार बारिश हुई। गुरुवार को तो सुबह से ही बारिश की झड़ी लगी हुई है। 24 घंटे के अंदर 70 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश हो चुकी है। इसके अलावा महेन्द्रगढ़ जिले नारनौल में भी कुछ देर बारिश हुई है। वहीं महेन्द्रगढ़ शहर के अलावा भिवानी जिले के भी कुछ इलाकों में बारिश हुई है।

नारनौल में बारिश का नजारा।
नारनौल में बारिश का नजारा।

जीटी बेल्ट में भी बदला मौसम

हरियाणा की जीटी बेल्ट यानी पानीपत, सोनीपत, करनाल, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, अंबाला में भी मौसम बदला हुआ है। कुछ जिलों में बूंदाबांदी तो कुछ में तेज बारिश हुई है। अगले 2 दिन भी यहां आसमान में बादल छाए रहने के साथ ही कहीं-कहीं हल्की और तेज बारिश हो सकती है।

बाजरे की फसल भीगी

दक्षिणी हरियाणा में इस वक्त बाजरे की खरीद चल रही है। रेवाड़ी, महेन्द्रगढ़, गुरुग्राम में बाजरे की फसल इस सीजन में मंडी पहुंचती है। रेवाड़ी जिले में काफी बाजरा अनाज मंडी के बाहर पड़ा हुआ है। तीन दिन से हो रही बारिश की वजह से फड़ के बाहर रखा बाजरा भीग गया है। इसके अलावा भारी बारिश की वजह से जगह-जगह जलभराव भी हो गया है।