रेवाड़ी की लाइफलाइन जाम से बेहाल:ट्रैफिक पुलिस ने 2 दर्जन अस्पतालों को भेजे नोटिस; 15 दिन में पार्किंग की व्यवस्था करें

रेवाड़ी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रेवाड़ी के सरकुलर रोड पर बनी जाम की स्थिति - Dainik Bhaskar
रेवाड़ी के सरकुलर रोड पर बनी जाम की स्थिति

हरियाणा के रेवाड़ी जिले की सरकुलर रोड को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए एक ओर प्रयास किया गया है। ट्रैफिक पुलिस ने सरकुलर रोड पर बने तमाम प्राइवेट अस्पतालों को नोटिस जारी करके 15 दिन के अंदर पार्किंग की व्यवस्था करने का आदेश दिया है। साथ ही चेतावनी दी कि अगर उसके बाद कोई वाहन सड़क पर खड़ा मिला तो कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि करीब 5 किलो मीटर लंबे सरकुलर रोड को शहर की लाइफ लाइन कहा जाता है। सरकुलर रोड के चारों ओर अंदर की तरफ पुराना शहर बसा है। इस रोड पर अधिकांश प्राइवेट अस्पताल या फिर बैंक बने हुए हैं, लेकिन खास बात यह है कि किसी भी प्राइवेट अस्पताल या फिर बैंक ने पार्किंग की व्यवस्था नहीं की हुई है, जिसकी वजह से अस्पताल या बैंक में पहुंचने वाले लोग बाहर सड़क पर ही वाहन खड़ा करते हैं। सड़क पर वाहन खड़ा होने से पूरे दिन जाम की स्थिति बनी रहती है।

अंबेडकर चौक पर एक अस्पताल के बाहर खड़े वाहन।
अंबेडकर चौक पर एक अस्पताल के बाहर खड़े वाहन।

5 प्वॉइंट, जहां रूक रही रफ्तार

सरकुलर रोड पर 4 जगह ऐसी हैं, जहां दिनभर जाम लगा रहता है। इनमें अंबेडकर चौक सबसे पहला स्थान है। यहां 4-5 प्राइवेट अस्पताल बने हुए हैं, लेकिन किसी भी अस्पताल के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। अस्पताल में आने वाले मरीज और तीमारदार छोड़ो अस्पताल के स्टाफ तक के वाहन बाहर खड़े होते हैं, जिसकी वजह से जाम लगा रहता है। इसी तरह जैन स्कूल के सामने, नाईवाली चौक, कानोड़ गेट पर हमेशा जाम की स्थिति रहती है। बावल चौक और बस स्टैंड के सामने अतिक्रमण जाम की मुख्य वजह है।

ट्रैफिक पुलिस द्वारा भेजा गया नोटिस।
ट्रैफिक पुलिस द्वारा भेजा गया नोटिस।

नोटिस में यह लिखा

यातायात पुलिस द्वारा बैंक को जारी नोटिस में लिखा गया कि शहर में आए दिन जाम की स्थित बनी रहती है। सीधे तौर पर अस्पतालों के नाम लिखते हुए कहा गया कि अस्पतालों के सामने गाड़ियां खड़ी रहती हैं, जिसकी वजह से वाहन चालकों को आवाजाही व आम जनता को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। अत: 10 से 15 दिन के अंदर पार्किंग की व्यवस्था करें। अन्यथा अस्पताल के सामने रोड पर गाड़ी खड़े होने पर नियमनुसार कार्रवाई व एमवी एक्ट के तहत चालान किए जाएंगे।

सरकुलर रोड पर एक अस्पताल के बाहर खड़ी गाड़ियां।
सरकुलर रोड पर एक अस्पताल के बाहर खड़ी गाड़ियां।

जाम से मुक्ति दिलाना मकसद

शहर ट्रैफिक इंचार्ज बहादुर सिंह ने कहा कि सरकुलर रोड पर हर समय जाम लगा होता है। जाम से मुक्ति दिलाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। अभी प्राइवेट अस्पतालों को नोटिस भेजे गए हैं। इसके साथ ही उन प्रतिष्ठानों और बैंक को भी चिन्हित किया जा रहा है, जिसकी वजह से रोड पर जाम लगता है। इन्हें पार्किंग की व्यवस्था करने के लिए नोटिस भेजे जा रहे हैं। अगर तय समय पर पार्किंग की व्यवस्था नहीं की तो कार्रवाई की जाएगी।