पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

माैसम अपडेट:3 घंटे में 29 एमएम बरसात, शहर की 12 कॉॅलोनियों में भरा पानी, 15 किलोमीटर की रफ्तार से चली हवा

बहादुरगढ़18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बस स्टैंड। - Dainik Bhaskar
बस स्टैंड।
  • तापमान में आई गिरावट, न्यूनतम 26 व अधिकतम रहा 32 डिग्री सेल्सियस, आज व कल भी बरसात की संभावना

शहर में बुधवार को हुई झमाझम बरसात ने जहां गर्मी से थोड़ी राहत दी, वहीं धर्मपुरा समेत कई काॅलोनियों और मोहल्लों में जलभराव के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। सड़कों पर पानी भरने से वाहन चालकों को काफी परेशानी हुई। हाईवे पर जलभराव के कारण जाम लगने से ट्रैफिक व्यवस्था प्रभावित रही।

इससे पहले प्रशासन ने जलभराव से निजात दिलाने के बड़े-बड़े दावे किए थे। लेकिन बुधवार को दोपहर 12 से 3 बजे तक हुई 29 एमएम बारिश ने ये दावे फेल हाे गए। इसके बाद पूरे दिन बूंदाबांदी होती रही। वेस्ट जुआं ड्रेन और मेन बाजार में जलभराव बस स्टैंड समेत कई जगहों पर नालों के ओवरफ्लो होने के कारण बारिश का पानी दिल्ली व रोहतक रोड पर जमा हो गया।

इसके अलावा वेस्ट जुआं ड्रेन की सड़क, मेन बाजार, झज्जर रोड पर भी जलभराव की स्थिति बन गई। सबसे ज्यादा खराब हालत निचली कॉलोनियों की रही यहां की सड़कें पानी से लबालब थीं। सड़कों पर घुटनों तक पानी भर गया। सड़क के साथ घरों और दुकानों में पानी भरने से लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। शाम तक लोग घरों और दुकानों से पानी निकालते दिखे।

निकासी के इंतजाम नहीं होने के कारण 2 घंटे बाद तक भी नहीं निकला पानी
शहर और आसपास के क्षेत्र में भी बुधवार को बारिश हुई। प्रशासन की ओर से करोड़ों खर्च करके बनाई गई निकासी की व्यवस्था भी फेल साबित हुई। कई गलियों में इतना अधिक पानी भर गया कि निकासी के इंतजाम सही न होने के कारण बारिश रुकने के दो घंटे बाद तक भी नहीं निकल पाया।

अग्रवाल कॉलोनी,झज्जर रोड,देव नगर शहर की प्रमुख पाश कॉलोनी सेक्टर-6, टीचर कॉलोनी, संत कॉलोनी, कच्चा बाग, बाग वाला मोहल्ला, बांबे वाली गली,महावीर पार्क और नेहरू पार्क समेत शहर की सभी गलियों में पानी भरने से लोगों को घंटों समस्या रही।

सफाई नहीं होने से नाले ओवरफ्लो
बुधवार को तीन घंटे तेज बारिश हुई। इससे पहले तेज हवा चली। बारिश में दिल्ली-रोहतक रोड सहित अन्य नाले भी ओवरफ्लो हो गए। इससे सड़क पर कई जगह जलभराव की स्थिति बन गई। दिल्ली-रोहतक रोड पर बने नालों की अभी तक सफाई नहीं हुई है। बीएंडआर विभाग द्वारा सफाई करवाई जानी है। ऐसे में बारिश आई तो ये नाले जवाब दे गए। शहर में लम्बे इंतजार के बाद बुधवार को मानसून का असर देखने को मिला।

बादल सुबह से ही छाए रहे, लेकिन करीब 12 बजे बाद अचानक मौसम बदलने पर तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। जिससे तापमान में भी गिरावट हुई। करीब 15 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली और बारिश भी हुई। जिससे तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। तापमान 40 से 32 पर पहुंच गया और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहा। सवा 12 बजे शुरू हुई बारिश करीब 3 घंटे तक होती रही।

इसके बाद शाम तक बौछारे पड़ती रही। सभी जगह तेज हवा और बारिश के कारण कहीं-कहीं पानी भी भर गया। वहीं एहतियात के तौर पर बिजली सप्लाई भी बंद कर दी गई। उमस भरी गर्मी के बीच अचानक मौसम का मिजाज बदल दिया। तेज हवा के साथ बदरा जमकर बरसे। बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से निजात मिल गई।

मौसम विभाग की माने तो मानसून आगे बढ़ गया है। इसलिए कई हिस्सों में तेज हवा के साथ बारिश हो रही है। कृषि विभाग के एसडीओ सुनील कौशिक ने बताया कि तीन घंटे के दौरान 29 एमएम बरसात दर्ज की गई। गुरुवार व शुक्रवार को भी बारिश की संभावना बताई।

तेज बरसात के कारण जहां भी जलभराव हुआ था,वहां से पानी की निकासी होती रही। नप ने पहले ही नालों की सफाई करवा दी थी। कुछ जगह पर जलभराव की शिकायत मिली है। वहां भी टीम लगा दी गई है। - बलबीर सिंह, सीएसआई, नगर परिषद,बहादुरगढ़।

खबरें और भी हैं...