प्रदर्शन / 600 रुपए प्रति दिन दिहाड़ी देने की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

X

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:40 AM IST

बहादुरगढ़. आल इंडिया किसान खेत मज़दूर संगठन ने शुक्रवार को अखिल भारतीय प्रतिवाद दिवस मनाया। इस मौके पर संगठन की मातनहेल व बेरी इकाई ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम मांग पत्र सौंपा। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अनूप सिंह मातनहेल ने नेतृत्व किया। मातनहेल ब्लॉक का ज्ञापन बीडीपीओ मातनहेल को व बेरी का ज्ञापन एसडीएम बेरी को सौंपा गया। अनूप सिंह ने प्रेस को बताया कि मौजूदा ‘आवश्यक वस्तु कानून’ में सुधार के नाम पर केंद्रीय सरकार ने तमाम कृषि उपज को असल में लुटेरी बहुराष्ट्रीय कंपनियों के हाथों में सौंपने के ताजा प्रस्ताव पेश किए हैं। इससे न केवल किसानों को बल्कि हमारे देश के लाखों मेहनतकशों को भारी नुकसान होगा। हमारा संगठन इसका कड़ा विरोध करता है। केन्द्र सरकार ने कृषि उत्पादन और पशुधन विपणन (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम, 2017 के माध्यम से कृषि उपज मंडी समिति (एपीएमसी) अधिनियम को बदलने की घोषणा की है। साथ ही अध्यादेश के माध्यम से भी इसे लागू करने के लिए राज्य सरकारों को भी कहा जा रहा है। किसान खेत मजदूरों को तत्काल प्रभाव से सहायता प्रदान करने के लिए प्रति परिवार न्यूनतम दस हजार रुपए आवंटित किए जाएं। ग्रामीण गरीबों के लिए मनरेगा में साल भर काम दिया जाए और 600  रुपए प्रति दिन दिहाड़ी दी जाए। बेमौसम बारिश, ओलावृष्टि और जलभराव से खराब हुई फसलों का 40000 प्रति एकड़ मुआवजा दिया जाए। बिकी हुई फसलों के  दामों का तुरंत भुगतान किया जाए। ज्ञापन देते समय फूल कुमार, लक्ष्मण, हरिसिंह, रिंकू, रमेश, रवि कुमार अहलावत, हरीश कुमार, देवेंद्र, सुरेश अहलावत, सत्यनारायण आदि किसान कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना