हवन का आयोजन:लखीमपुर खीरी में मारे किसानों लिए किया हवन

बादली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ढासा बॉर्डर के किसानों के धरने पर लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों की आत्मा की शांति के लिए हवन का आयोजन कराया गया। हवन के माध्यम से किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। हवन कार्यक्रम में ढासा बॉर्डर पर विभिन्न गांव से पहुंचे किसानों, किसान संगठनों, कर्मचारी संगठनों से जुड़े लोग तथा धरना कमेटी के सदस्य मौजूद रहे।

सभी ने हवन में आहूति डाली और लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों की आत्मा की शांति के लिए भगवान से प्रार्थना की। हवन के माध्यम से किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर मुख्य रूप से विनोद गुलिया, दीपक धनखड़ कासनी, एडवोकेट सतवीर गुलिया, सरजीत गुलिया जहांगीरपुर, वीरेंद्र डागर, अमरजीत सिंह, कपूर सिंह, प्रीतम कुकडौला सहित दर्जनों की संख्या में किसान व अन्य मौजूद रहे।

इस मौके पर दीपक धनखड़ कासनी व एडवोकेट सतवीर गुलिया ने कहा कि सरकार पता नहीं अभी तक कौन वहम पाले हुए हैं। सरकार को यह समझ नहीं आ रहा कि किसान अपने हकों की लड़ाई लड़ रहे हैं। जब तक उनकी मांगें नहीं मान ली जाती वह अपने घरों को लौटने वाले नहीं हैं। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों के ऊपर चाहे जितने अत्याचार कर ले, लेकिन किसान अपने हकों को लिए बिना तीनों कानूनों को रद्द कराए बिना घर लौटने वाले नहीं हैं।

खबरें और भी हैं...