पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आक्रोश में अन्नदाता:निजामपुर व टिकरी बाॅर्डर के औद्योगिक क्षेत्र में दिन में लगा 2 किलोमीटर तक जाम, शाम को पुलिस सुरक्षा के बीच किसानों ने दिल्ली में प्रवेश किया

बहादुरगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किसान आंदोलन की वजह से बहादुरगढ़-दिल्ली राजमार्ग पर टिकरी बॉर्डर सील होने से हजारों लोग रात से भी परेशान रहे। लोगों को दिल्ली में जाने के लिए निजामपुर व औद्योगिक क्षेत्र में गंदगी से भरी गलियों से होते हुए दिल्ली में प्रवेश करने का मार्ग मिला। इस कारण इस सड़क पर भी दिन भर जाम के हालात बने रहे। गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने टिकरी बाॅर्डर पर एमसीडी टोल प्लाजा के पास बेरिकेड्स लगाकर दिल्ली जाने वाले मार्ग को सील किया है।

पुलिस ने वाहनों को वापस बहादुरगढ़ की तरफ भेज दिया। इससे करीब दो किलोमीटर लंबा जाम लग गया। जाम में फंसे वाहन चालकों के साथ-साथ आमजन को भी काफी परेशानी उठानी पड़ी। दिल्ली पुलिस की ओर से बाॅर्डर सील किए जाने से बहादुरगढ़ पुलिस ने भी सेक्टर-9 मोड़ पर दिल्ली मार्ग को बंद कर दिया। यहीं से ही वाहनों को झाड़ौदा बाॅर्डर, निजामपुर बाॅर्डर समेत अन्य वैकल्पिक रास्तों से दिल्ली की तरफ भेजा गया। लोग दिल्ली से आवागमन करने के लिए रातभर वैकल्पिक रास्तों पर भटकते रहे।

कांटेदार तार के साथ तीन लेयर में सील था बाॅर्डर
कांटेदार तार के साथ तीन लेयर में बार्डर सील किया था जिसे किसान तोड़ नहीं पाए दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शन में शामिल पंजाब और हरियाणा के किसानों में से काफी लोग शुक्रवार सुबह दिल्ली सीमा के पास पहुंच जाने के बाद वे दिल्ली में प्रवेश नहीं कर पाए इसके लिए तीन लेयर का नाका सील किया था उसमें जेसीबी व बड़े डंपरों के साथ-साथ बड़े ट्रकों को इस तरह से खड़ा करके चैन बनाई कि तीन घंटे तक किसानों ने ट्रैक्टरों के साथ वाहनों को बांध कर खींचने का भी प्रयास किया व दिल्ली पुलिस ने वाहनों के इस तरह से एक दूसरे में फंसा कर खड़ा किया था कि किसान दिल्ली में प्रवेश करने में कामयाब नहीं हो पाए।

इसके बाद किसानों ने वहीं पर धरना शुरु कर दिया इस तरह से हाइवे नंबर नौ पूरी तरह से जाम हो गया। किसानों के दिल्ली चलो मार्च के मद्देनजर पुलिस ने टिकरी बाॅर्डर सीमा पर यातायात पहले से ही बंद कर दिया था। अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार की शाम बहादुरगढ़ से दिल्ली की ओर यातायात का आगमन भी बंद कर दिया गया था।

किसानों पर आंसू गैस व वाटर कैनन से बौछार करना अत्याचार

किसान विरोधी तीन काले कानूनों के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन के लिए दिल्ली जा रहे किसानों पर आंसू गैस के गोले छोडऩे व वाटर कैनन से पानी की बौछार करना किसानों पर सरासर अत्याचार है। जिसका इनेलो घोर विरोध करती है। किसान केवल शांतिपूर्वक अपनी मांगे रखने व किसान विरोधी कानूनों का विरोध करने के लिए जा रहे हैं। लेकिन उन पर बल का प्रयोग कर उनकी मांगों को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। यह कहना है कि इंडियन नेशनल लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी का। नफे सिंह राठी ने टीकरी बाॅर्डर पर पहुंचकर किसानों को समर्थन दिया। उन्होंने किसानों को आश्वासन दिलाया कि इनेलो हर कदम पर किसानों के साथ कंधे से कंधा मिला कर साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि इनेलो हमेशा से किसान हितैषी रही है और इस संकट की घड़ी में भी किसानों के हकों की लड़ाई लड़ेंगी। उन्होंने कहा कि भाजपा-जजपा सरकार किसान विरोधी सरकार है। लॉकडाउन के दौरान कृषि विरोधी बिल लागू करके किसानों को बर्बाद करने का काम किया गया है। जिसका इनेलो विरोध करती है। इनेलो किसानों की हरसंभव मदद करने के लिए पूर्ण रुप से तैयार है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser