पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेट्राे सेवा:27 दिन बाद आज से फिर चलेंगी मेट्रो, इस बार यात्री खड़े होकर सफर नहीं कर सकेंगे

बहादुरगढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के चलते 10 मई काे बंद हुई थी मेट्राे

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने पिछले महीने 10 मई को दिल्ली मेट्रो की सेवाओं को बंद करने का ऐलान किया था। अब दिल्ली में अनलॉक-2 के तहत मेट्रो के चलने से बहादुरगढ़ के हजारों लोगों को राहत मिलने की उम्मीद है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने लगी है। अब प्रतिदिन के कोरोना संक्रमितों की संख्या कम हो रही है। ऐसे में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने यहां अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू कर दी है। पहले चरण में फैक्ट्रियों को खोलने और निर्माण कार्य शुरू करने के आदेश दिए गए थे।

अनलॉक के दूसरे चरण में सीएम केजरीवाल ने कुछ और छूट देने का ऐलान किया। दिल्ली मेट्रो फिर शुरू होने जा रही है। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बंद कर दी गई दिल्ली मेट्रो को 7 जून से फिर शुरू किया जा रहा है। लेकिन मेट्रो में सफर इस बार कई पाबंदियों के साथ शुरू हो रहा है। मेट्रो को सिर्फ 50 फीसदी क्षमता के साथ ही चलाने की तैयारी है।

सभी काे एक-एक सीट छाेड़ बैठना हाेगा: डीएमआरसी ने जानकारी दी है कि मेट्रो को फिर शुरू किया जा रहा है, लेकिन सिर्फ अब दो यात्रियों को साथ बैठने की भी अनुमति नहीं रहेगी। कुछ समय के लिए सभी को एक-एक सीट छोड़ बैठना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है। वहीं मेट्रो में खड़े होकर करने पर भी पाबंदी रहेगी। सिर्फ 50 फीसदी लोग तो सफर कर ही पाएंगे,उन्हें भी सिर्फ बैठकर होगा।

यात्रियों के लिए खुशखबरी: 50 फीसदी क्षमता के साथ चलाने की तैयारी

मास्क लगाना अनिवार्य
मेट्रो परिसर और ट्रेन में यात्रा के दौरान लोगों के लिए मास्क लगाना अनिवार्य होगा। यदि कोई यात्री ऐसा नहीं करता है तो उस पर जुर्माना लगाया जाएगा। स्टेशन में प्रवेश से पहले सभी यात्रियों की स्क्रिनिंग की जाएगी। यदि किसी व्यक्ति का तापमान सामान्य से ज्यादा होता है तो उसे मेट्रो में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। मेट्रो में यात्रा करने वाले प्रत्येक व्यक्ति के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टाल होना अनिवार्य होगा। यात्रा के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करना होगा। यात्रियों को मेट्रो में एक सीट छोड़कर बैठना होगा। साथ ही ट्रेन में प्रवेश करने और बाहर निकलते समय दूरी बनाकर रखनी होगी।

बुधवार से पूरी क्षमता के साथ मेट्राे सेवा का किया जाएगा संचालन
डीएमआरसी की माने तो सरकार की गाइडलाइन के अनुसार इस दौरान मेट्रो केवल 50 प्रतिशत सवारियों को लेकर ही चलेगी। साथ ही हर लाइन पर करीब पांच से पंद्रह मिनट के अंतराल पर मेट्रो की सेवा मिलेगी। उपलब्ध ट्रेनों में से केवल आधी ट्रेन ही संचालित की जायेंगी। यानि कुल पचास फीसदी क्षमता के साथ ही मेट्रो अपनी सेवा शुरू करेगी। साथ ही दिल्ली मेट्रो ने कहा है कि धीरे-धीरे इन ट्रेनों की संख्या बढ़ा दी जाएगी और बुधवार तक पूरी क्षमता के साथ मेट्रो सेवा का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। जिसके बाद पहले की तरह नियमित समय पर ट्रेनें मिलने लगेंगी।

मेट्राे 245 दिन बाद दाेबारा की गई थी बंद

बहादुरगढ़ से हजारों की संख्या में पुलिस व अन्य सरकारी नौकरियों को लेकर लोग दिल्ली जाते हैं। काफी अपने साधनों से जाते हैं व अन्य मेट्रो से अब वह सिलसिला बंद होने से लोगों को परेशानी हो रही थी। इससे पहले मेट्रो में सिर्फ जरूरी सेवा से जुड़े लोगों के ही चलने की अनुमति थी। मगर इसके बाद भी मेट्रो चलने से बहुत से लोग बेवजह सफर कर रहे थे। यही नहीं कुछ स्टेशनों पर भीड़ भी हो रही थी, जिसके चलते यह फैसला लिया गया था।

मेट्रो का परिचालन 2018 में शुरू हुआ था उसके बाद पहली बार बीते वर्ष मार्च 2020 में कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन में मेट्रो का पहिया पहली बार पूरी तरह से थमा था। उसके बाद 7 सितंबर से फिर मेट्रो का परिचालन शुरू किया गया था। 12 सितंबर तक सभी नेटवर्क सेवा शुरू कर दी गई थी। अब दोबारा 10 मई को 245 दिन बाद दोबारा से मेट्रो परिचालन को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। अब फिर से मेट्रो को खोला जा रहा है।

खबरें और भी हैं...